Breaking News

भागलपुर में प्राइवेट गार्ड ह’त्याकां’ड के दो हफ्ते बीते:SSP का दावा – अहम सुराग मिले

भागलपुर जिले के जोग्सर थाना क्षेत्र के चंड़ी प्रसाद लेन स्थित श्रीनिकेतन अपार्टमेंट हुए प्राइवेट गार्ड परुषोतम दास की हत्या और उसके साथी पर जान लेवा हमले में दो सफ्ताह बीत जाने के बाद भी हत्या के आरोपी पुलिस गिरफ्त से बाहर है ऐसे में भागलपुर जिले के एसएसपी का दावा है कि गार्ड हत्याकांड में पुलिस को अहम सुराग मिले जल्द करवाई की जाएगी । गार्ड हत्याकांड में पुलिस अब जख्मी गार्ड के साथी साजन के बयान का इन्तेजार कर रही है ।n

फिलहाल जख्मी साजन का इलाज भागलपुर के मायागंज अस्पताल में इलाज चल रहा है। वही आपको बता दें कि सात सितंबर के अहले सुबह में श्रीनिकेतन अपार्टमेंट में बेख़ौफ़ बदमाशों ने सोये हुए गार्ड परुषोतम की गला रेत कर निर्भम हत्या की वारदात को अंजाम दिया था और गार्ड के दोस्त की भी गला रेतकर मारने का प्रयास किया था । मगर उसे गम्भीर हालत में अस्प्ताल में भर्ती कराया गया था और जख्मी साजन के हालत में सुधार हो रही है।

वही जख्मी साजन ने मुह से कुछ बोल नही पा रहे है और दैनिकभास्कर की टीम को इशाहरे में बताया कि वे अपने दोस्त के साथ अपार्टमेंट के गार्ड रूम में सोया हुआ था और कुछ लोग अचानक आये और दोनों को बिछावन पर ही बांध दिया और चेहरे पर भी कपड़ा से ढक दिया था और उसके बाद दोनों की हत्या करने का प्रयास किया जिसने गार्ड परुषोतम की मौके पर मौत हो गई थी।

वही मामले को लेकर एसएसपी बाबूराम ने दावा किया है कि हत्याकांड मामले को लेकर अहम सुराग मिले है फाइनल निणर्य लेने से पहले जख्मी साजन की हालत में सुधार हो रही है साजन की बयान लेने के बाद कोई शक की गुंजाइश नही रहेगी और जबतक फाइनल निर्णय पर नही पहुंचते तब तक सभी कोई निर्णय लेना जल्दबाजी होगी ।

वही घटना के दिन जख्मी साजन ने पुलिस को एक कागज में लिखकर कुछ इशारा किये थे जिसके बाद पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर साक्ष्य में जुटा लिए और घटना के दूसरे दिन एसएसपी बाबुराम खुद दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर गार्ड के कमरे से डस्टबिन से एक क्षतिग्रस्त मोबाइल भी बरामद किया था जो पुलिस हथियार के बहुत करीब पहुंच चुके है। लेकिन सवाल उठता है को दो सफ्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस अपराधियो की गिरफ्तारी नही कर सकी है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.