BIHARBreaking NewsSTATE

मकर संक्राति पर सुना पड़ा राबड़ी आवास, दही-चूड़ा खाने के लिए घर पर पहुंची गरीब महिलाएं हुई निराश

मकर संक्रांति पर हर साल पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी अपने आवास पर गरीब लोगों के लिए दही-चूड़ा भोज का आयोजन करती थी। लेकिन इस साल आवास पर किसी के मौजूद नहीं होने के कारण भोज का आयोजन नहीं किया जा रहा। वहीं, इस बात से अनजान कुछ गरीब महिलाएं आज फिर राबड़ी आवास के बाहर पहुंच गई। वे इस उम्मीद के साथ पहुंची थी कि आज मकर संक्रांति के अवसर पर उन्हें दही चूड़ा खाने को मिलेगा। साथ ही ठंड से बचने के लिए कंबल मिलेगा। लेकिन उन्हें निराश होकर खाली हाथ वहां से निकलना पड़ा।

इस दौरान महिलाओं ने बताया कि हम लोग हर साल यहां पर दही चुरा खाने आते है। हमे भोजन के साथ-साथ कंबल भी मिलता है। लेकिन इस बार घर पर किसी के नहीं होने के कारण हमे हताश लौटना पड़ रहा है।वहीं दूसरी महिला ने बताया कि मैं कौशल नगर से आई हूं और साहब ने कहा था कि 14 जनवरी को आना तो दही चुरा खिलाएंगे और साथ में कंबल भी मिलेगा। लेकिन मालिक घर पर नहीं है। ऐसे में हमे खाली हाथ ही लौटना पड़ रहा है।

वहीं, वहां मौजूद एक और महिला ने बताया कि हर साल यहां दही चूड़ा खाने को मिलता था। हमने सोचा की इस बार का दही चूरा हम भैया-भाभी के साथ मनाएंगे। लेकिन वे भी यहां नहीं है। अब अगले साल वापस से आएंगे। आशा है कि अगली बार का मकर सक्रांति हम भैया-भाभी के साथ मनाएंगे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.