BIHARBreaking NewsSTATE

कानपुर में 2 कारोबारियों पर आयकर विभाग का एक्शन, 150 करोड़ बरामद, मशीन से पैसे गिन रही टीम

कानपुर: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (UP Vidhansabha Chunav 2022) से पहले इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (आयकर विभाग) ने कानपुर में दो बड़े कारोबारियों पर बड़ी कार्रवाई की है. समाजवादी पार्टी से जुड़े नेताओं पर एक्शन के बाद अब आयकर विभाग की टीम ने बड़े इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Piyush jain) और पान मसाला कारोबारी केके अग्रवाल के घर और ठिकानों पर छापेमारी कर बड़ी रकम बरामद की है.

बताया जा रहा है कि कानपुर के जूही थानाक्षेत्र के आनंदपुरी में रहने वाले इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर से अबतक की छापेमारी में आईटी टीम को 150 करोड़ से अधिक रुपयों की बरामदगी हुई है. हालांकि, अभी भी गिनती जारी है और अभी फाइनल आंकड़ा नहीं आया है. हालांकि, अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि केके अग्रावाल के ठिकानों से कितने पैसों की बरामदगी हुई है. छापेमारी के दौरान इनकम टैक्स (Income Tax) की टीम अपने साथ नोट गिनने वाली मशीन साथ लेकर पहुंची है. पैसों को गिनते हुए वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर भी वायरल हो चुकी है.

बताया जा रहा है कि नोटों की गिनती के लिए एसबीआई के अधिकारियों की मदद ली जा रही है, जिसके बाद बरामद हुए रुपयों की सही जानकारी मिल पाएगी. बता दें कि इत्र कारोबारी पीयूष जैन और पान मसाला कारोबारी केके अग्रवाल घर अभी भी छापेमारी की कार्रवाई जारी है. आईटी टीम के साथ अहमदाबाद से आई डीजीजीआई की टीम भी इस अभियान में शामिल है.

दरअसल, आरोप है कि कई फ़र्ज़ी फर्मों के नाम से बिल बनाकर कंपनी ने करोड़ो रुपयों की GST चोरी की. पीयूष के घर से 200 से अधिक फर्जी इनवॉइस और ई-वे बिल मिले हैं. पीयूष जैन के घर मे बड़ी तादात में बक्से मंगवाये गए हैं. छापेमारी के दौरान जीएसटी चोरी का भारी खेल सामने आया है. वहीं इनकम टैक्स और जीएसटी विभाग ने 12 से ज्यादा संदूक मंगाए हैं ताकि करोड़ों रुपए रखे जा सकें. इन रुपयों को गिनने के लिए अभी तक 6 मशीनें लाई गई हैं और मौके पर बैंकों से पीएसी और पुलिस बल मौजूद हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.