BIHARBreaking NewsSTATE

बिहार में नीतीश की श’राबबंदी पर बीजेपी सांसद की बड़ी बात- पुलिस संरक्षण में बिकती श’राब, थाने द’लालों के अड्डे

बिहार में श’राबबंदी (Prohibition) फेल है, यह मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की सरकार में शामिल भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से उठी है। बिहार के औरंगाबाद के बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह (BJP MP Sushil Kumar Singh) के अनुसार बिहार में श’राबबंदी के बावजूद पुलिस सरंक्षण में खुलेआम शराब की बिक्री की जा रही है। हालांकि, बीजेपी सांसद के आरोपों पर बीजेपी नेता और पूर्व मंत्री रामाधार सिंह ने सरकार का बचाव भी किया है।

सांसद के नेतृत्व में थाना पर बीजेपी का ध’रना

पुलिस पर श’राबबंदी कानून के दुरुपयोग का आ’रोप लगाते हुए बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह के नेतृत्व में बीजेपी ने थाना पर धरना दिया। बीजेपी ने पुलिस पर सरकार को बदनाम करने का भी आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा कि थाने दलालों के अड्डे बन गए हैं और पुलिस खुलेआम शराब बिक्री को संरक्षण दे रही है। दिखावे के लिए कानून का डंडा केवल कमजोरों पर चलाया जाता है। 

बीजेपी कार्यकर्ता की गि’रफ्तारी पर भड़के एमपी

दरअसल, मामला औरंगाबाद के रफीगंज के बीजेपी कार्यकर्ता शिवनारायण साव की पुलिस पिटाई का है। पुलिस ने सड़क जाम करने तथा श’राब पीने के आरोप में बीजेपी कार्यकर्ता शिवनारायण साव, गुडडू चौधरी तथा देवनन्दन राम को गि’रफ्तार किया। उन्‍हें देर रात थाने से जमानत पर छोड़ दिया गया। सांसद इसी घटना के विरोध में धरना पर बैठे थे। धरना के दौरान शिवनारायण साव ने अपने बदन पर पुलिस पि’टाई से लगे जख्‍मों के निशान भी दिखाए।

नीतीश की पुलिस नकारा, बिकवाती है श’राब

धरना के दौरान सांसद ने कहा कि जिसे गि’रफ्तार किया गया, उसने कभी शरा’ब नहीं पी, लेकिन आश्‍चर्यजनक रूप से डॉक्टर ने भी बगैर ब्रेथ एनेलाइजर के ‘श’राब पीने की पुष्टि कर दी। सांसद ने नीतीश सरकार की पुलिस को नकारा और घूसखो’र करार दिया तथा कहा कि थाना प्रभारी क्षेत्र में श’राब बेचवाते हैं।

आरोपों की हो रही जांच, करेंगे का’र्रवाई: एसपी

इस मामले में औरंंगाबाद के पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरिका ने कहा कि सांसद ने जो मेमोरेंडम दिया है, उसके आाधार पर जांच एसडीपीओ कर रहे हैं। उनकी जांच रिपोर्ट आने के बाद कानून-सम्‍मत का’र्रवाई की जाएगी।

अपने ही सांसद के खिलाफ उतरे बीजेपी नेता

खास बात यह है कि इस मामले में बीजेपी सांसद के खि’लाफ बीजेपी के दूसरे नेता व पूर्व मंत्री खड़े दिखे। बिहार सरकार में पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता रामाधार सिंह ने सत्ताधारी दल के नेता को क्या करना चाहिए यह सीख सांसद को दी। साथ ही उनपर गत विधानसभा चुनाव में पैसा बांटने का आरोप लगाया। मामले में पुलिस का पक्ष लेते हुए कहा कि किसी ईमानदार छवि के पुलिस अधिकारी का सत्ताधारी ने तो तबादला करा सकते हैं और न ही निलंबित।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.