BIHARBreaking NewsSTATE

पूर्वी चम्पारण की स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतर रोल निभा रहा है रेडक्रॉस

पूर्वी चम्पारण की स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतर रोल निभा रहा है रेडक्रॉस

  • 20 वर्षों से लोगों की जान बचा रहा रेडक्रॉस सोसाइटी
  • अनेक तरह के पैथोलॉजिकल सुविधाएं भी हैं उपलब्ध
  • 24 घण्टे दी जाती है सेवा
  • शहर के कई पदाधिकारी भी करते हैं रक्तदान

मोतिहारी, 15 दिसंबर।
कहा जाता है कि रक्तदान महादान है। ऐसे ही महादानियों के पुण्य को एकत्रित कर जिले का रेडक्रॉस सोसाइटी लोगों की जिंदगियां बचा रहा है। इस वर्ष रेडक्रॉस सोसाइट को सेवा देते 20 वर्ष बीत चुके हैं। यहां की सुविधाएं और प्रधान सहायक उपेन्द्र बैठा की तत्परता हर पल नयी स्फूर्ति भरती है।
24 घंटे मिलती है सेवा —
यहां 24 घंटा रक्त की सेवा मिलती है। जिससे लोगों को रक्त लेने में सहूलियत रहती है। सोमवार तक रेडक्रॉस में 103 यूनिट ब्लड उपलब्ध थे । जिसमें ए प्लस 27, बी माइनस 1, एबी प्लस 4 , ओ प्लस 40, ओ निगेटिव 2 यूनिट ब्लड उपलब्ध हैं ।
थैलीसिया के मरीज को 22 यूनिट तक फ्री ब्लड दी जाती–
मोतिहारी रेडक्रॉस में थैलीसिया के बहुत मरीज यहां आते हैं। जिन्हें 22 यूनिट तक फ्री ब्लड दी जाती है। वे लोग हर 15 दिन में पुनः रक्त लेने के लिए केंद्र पर आते हैं। कई लोगों को सरकार एवं डॉक्टर के निर्देश पर मुफ्त सहायता भी दी जाती है। मोतिहारी रेडक्रॉस में हेपेटाइटिस बी के टीके, हेपेटाइटिस ए ,हेपेटाइटिस सी, मलेरिया, कालाजार, ब्लड ग्रुप जांच के साथ-साथ कई पैथोलॉजी की सुविधाएं भी कम दरों पर उपलब्ध हैं।

आपदा में भी जिलेवासियों के साथ खड़ा रहता है रेडक्रॉस-
रेडक्रॉस सोसाइटी द्वारा संस्था के कई सहयोगियों के साथ समय-समय पर बाढ़ राहत सामग्रियों का वितरण प्रखंड ,अनुमंडल स्तर पर भी किया जाता है। यहां अग्नि पीड़ित ,बाढ़ पीड़ितों को तारकोल सीट , बाल्टी , खाने-पीने के सामान समय-समय पर उपलब्ध कराया जाता है। साथ ही कोरोना काल में सैनिटाइजर, मास्क ,साबुन, हैंड वाश इत्यादि का भी वितरण किया जाता है। मोतिहारी रेडक्रॉस सोसाइटी से रक्त लेने के लिए पीएमसीएच, आईजीएमएस ,,एनएमसीएच, डीएमसीएच ,मुजफ्फरपुर मेडिकल कॉलेज से भी लोग यहां आते हैं। मोतिहारी में ब्लड बैंक 2 अक्टूबर 1991 से शुरू हुआ था ।
डीएम ,एसपी और समाजसेवी भी रक्तदान कर रक्तदान को प्रेरित करते —
यहां के कई पदाधिकारी डीएम ,एसपी और समाजसेवी भी लगातार रक्तदान कर लोगों को रक्तदान के लिए प्रेरित करने का काम करते हैं। मोतिहारी रेड क्रॉस सोसाइटी सेंटर पर एचआईवी की जांच आईसीटीसी की सेवा भी मुफ्त में दी जाती है। कई बार कैंपों के माध्यम से भी यहां फ्री जांच की जाती है जिसमें निजी डॉक्टरों द्वारा भी सहयोग किया जाता है।
रेडक्रॉस में अनेकों प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं-
20 वर्षों से लगभग यहां पर अनेकों प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं। कभी-कभी बाहरी डॉक्टरों द्वारा सर्जरी की सुविधा भी मुफ्त में दी जाती है । उपेंद्र बैठा ने बताया कि लोगों को साल में एक बार रक्तदान जरूर करना चाहिए । उनके मुताबिक यहां अनेक प्रकार की जांच करने के बाद ही किसी कि रक्त ली जाती है । साथ ही साफ-सफाई एवं कोरोना प्रोटोकॉल का भी ख्याल रखा जाता है ।
कोरोना काल में इन उचित व्यवहारों का करें पालन,-

  • एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
  • सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
  • अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
  • आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
  • छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.