Breaking NewsUTTAR PRADESHViral Video

#UP; Google Map की मदद से अब सीधे घ’टनास्थल पर पहुंच सकेगी फा’यर ब्रिगेड, जानें…

आग लगने पर दमकल अब बिना भ’टके ही घ’टनास्थल पर पहुंचेगा। प्रदेश भर की दमकलों में एमडीटी (मोवाइल डेटा ट्रर्मिनल) लगाए जा रहे हैं।गूगल मैप की मदद से दमकर अपने प्वाइंट पर आसानी से पहुंच सकेगा। इससे फायर पुलिस कर्मियों को काफी सहूलियत मिल रही हैं। टेस्टिंग के तौर पर महज 490 दमकल में अभी तक यह डिवाइस इस्तेमाल की जा रही हैं। आने वाले वक्त में इस डिवाइस को ट्रैफिक एप से भी जोड़ने की कवायद की जाएगी। जिससे रास्ते में मिलने वाले जाम से दमकल कर्मी पहले से स’तर्क हो सके।अ’ग्निशमन विभान के ज्वाइंट डायरेक्टर के मुताबिक एमडीटी दमकल में लगाया जा रहा है।

आग की सूचना पर दमकल रास्ते से भ’टक जाती थी। इस डिवाइस से घ’टनास्थल पर पहुंचने में दिक्कत नहीं हो रही हैं। प्रदेश 290 फायर स्टेशन हैं। जिसमें करीब 1200 दमकल हैं। अभी तक 490 दमकल में इस दिवाइस को इस्तेमाल किया जा रहा है। इस डिवाइस का अच्छा रिस्पांस भी मिल रहा है।


आग की सूचना पर दमकल रास्ते से भ’टक जाती थी। इस डिवाइस से घ’टनास्थल पर पहुंचने में दिक्कत नहीं हो रही हैं। प्रदेश 290 फायर स्टेशन हैं। जिसमें करीब 1200 दमकल हैं। अभी तक 490 दमकल में इस दिवाइस को इस्तेमाल किया जा रहा है। इस डिवाइस का अच्छा रिस्पांस भी मिल रहा है।सीएफओ का कहना है कि शहर में 9 फा’यर स्टेशन हैं।

बड़ी-छोटी 26 दमकल हैं जबकि दो इलेक्ट्रिकल प्लेटफार्म हैं। अभी तक 24 दम’कलों में एमडीटी डिवाइस का इस्तेमाल किया जा रहा है। आ’ग लगने पर इस डिवाइस को द’मकल में लगा दिया जाता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.