BIHARBreaking NewsSITAMARHISTATE

सीतामढ़ी: “लॉक डाउन को पूरी सख्ती से लागू करें”- DM अभिलाषा कुमारी

समाहरणालय सीतामढ़ी, जनसंपर्क कार्यालय, ..
लॉक डाउन को पूरी सख्ती से लागू करें – DM
महामारी से निपटने हेतु डीएम ने नवगठित सातों कोषांगों की बैठक कर दिए कई निर्देश लॉक डाउन उल्लंघन करने वाले से एक लाख से अधिक वसूली गई जुर्माना राशि, कई पर प्रथमिकी द’र्ज। सीतामढ़ी डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने समाहरणालय सभागार में नवगठित कोषांगों के अधिकारियों के साथ बैठक कर पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से उनके कर्तव्यों एवम जबाबदेही से उन्हें अवगत कराया। गौरतलब हो कि महामा’री की इस आ’पदा से सफलता पूर्ण निपटने हेतु चुनाव के तर्ज पर सात कोषांगों का गठन किया गया है, जिसमें कई तेजतर्रार अधिकारी, वरीय अधिकारी व कर्मी प्रतिनियुक्त किए गए हैं।

क्वॉरेंटाइन कोषांग, ट्रेकिंग कोषांग, आइसोलेशन कोषांग, हेल्पलाइन संचालन एवं प्रबंधन कोषांग,कन्फर्म केस कोषांग, लॉक डाउन एनफोर्समेंट कोषांग,प्रचार प्रसार सह संचार कोषांग कुल सात कोषांग का गठन किया गया है। क्वॉरेंटाइन कोषांग के अधिकारियों को डीएम ने निर्देश देते हुए कहा कि सीतामढ़ी जिले में विगत 15 दिनों से जिले के बाहर से आए हुए शत प्रतिशत लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी ।स्क्रीनिंग के दौरान कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी लक्षण नहीं पाया जाता है तो वैसे व्यक्ति अपने घर में अगले 14 दिनों तक क्वॉरेंटाइन में रहेंगे। उनके हाथ मे होम कोरेन्टीन से सबंधित स्टम्पिंग लगेगा। उन्होंने निर्देश दिया कि अगर किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस से संबंधित कोई भी आरंभिक लक्षण पाया जाता है तो क्वॉरेंटाइन कोषांग में कार्यरत कर्मी यह सुनिश्चित करेंगे कि उक्त व्यक्ति क्वॉरेंटाइन सेंटर में ही क्वॉरेंटाइन हो ,इसके लिए पंचायत का विद्यालय चिन्हित किया गया है जिस का संचालन विद्यालय के प्रधान शिक्षक एवं अन्य शिक्षक करेंगे। डीएम ने कहा कि सभी पंचायतों के वार्ड सदस्य, मुखिया, आशा दीदी, आंगनवाड़ी सेविका सहायिका का यह दायित्व होगा कि जो भी लोग बाहर से आए हैं उनकी पूरी विवरण दिए गए प्रपत्र में संधारित करेंगे ।

उक्त प्रपत्र में प्राप्त जानकारी पंचायत स्तर पर पंचायत के कार्यपालक सहायक तैयार करेंगे ,तथा उसे प्रखंड मुख्यालय को भेजेंगे, संबंधित बीडीओ इसे समेकित कर संबंधित कोषांग को भेजेंगे। संबंधित कोषांग उक्त सभी डाटा को संगठित करेंगे तथा ट्रेकिंग कोषांग के साथ साझा करेंगे। ट्रेकिंग कोषांग कोरेन्टीन सेंटर या होम कोरेन्टीन में रह मे रहे लोगों का क्वॉरेंटाइन अवधि तक ट्रैकिंग करेंगे। डीएम ने कहा कि स्क्रीनिंग के दौरान जिन व्यक्तियों में स्पष्ट लक्षण पाए जाएंगे ,उन्हें जिले के विभिन्न चिन्हित आइसोलेशन सेंटर में आइसोलेशन हेतु रखा जाएगा। आइसोलेशन केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी * विभाग के एस ओ पी के अनुरूप कार्रवाई पूर्ण करेंगे तथा दैनिक प्रतिवेदन आइसोलेशन को शाम को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे। डीएम ने कहा कि कोरोना वायरस से संबंधित हेल्पलाइन नंबर 104 एवम जिला नियंत्रणकक्ष का दूरभाष नंबर 06226-250316 घोषित है। इस नंबर पर प्राप्त कॉल जिला नियंत्रण कक्ष में स्थानांतरण के द्वारा प्राप्त होंगे ।ऐसे सभी कॉल पर प्रतिनियुक्त चिकित्सा पदाधिकारी बहुत ही सौहार्दपूर्ण तरीके से समस्या के अनुरूप निराकरण या उपचार बताएंगे, जरूरी होने पर संबंधित अस्पताल की टीम मरीज के घर जाकर जांच करेगी, जांच के दौरान यदि किसी मरीज में कोरोनावायरस का मामला संपुष्टि होता है तो विगत 15 दिनों में * रोगी के संपर्क में आए सभी व्यक्तियों की पहचान कर उनका शत-प्रतिशत स्क्रीनिंग एवं स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के आलोक में अद्यतन कार्रवाई की जाएगी डीएम ने कहा कि सीतामढ़ी जिला अंतर्गत लॉक डाउन को पूरी शक्ति के साथ शत-प्रतिशत लागू करवाने की जिम्मेवारी लॉक डाउन इन्फोर्समेंट कोषांग की होगी। लॉक डाउन कोषांग के वरीय पदाधिकारी एसपीअनिल कुमार ने बताया कि पूरी सख्ती के साथ लॉक डाउन किया जा रहा है।

लगभग 1 लाख से अधिक जुर्माने की राशि वसूली गई है,वही कुछ प्रथमिकी भी दर्ज की गई है।प्रचार-प्रसार सा संचार कोषांग कोरोना वायरस से बचाव से संबंधित प्रमाणिक जानकारी का प्रसारण तथा सभी प्रकार के सूचना का संग्रहण करेगी। डीएम ने निर्देश दिया कि सभी कोषांग के वरीय पदाधिकारी प्रत्येक दिन संध्या में अपने कोषांग के पदाधिकारियों के साथ सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए समीक्षा करेंगे तथा समीक्षा प्रतिवेदन प्रतिदिन उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करेंगे। उक्त बैठक में एसपी अनिल कुमार,डीडीसी प्रभात कुमार,जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी,डीपीआरओ परिमल कुमार,जिला पंचायत राज पदाधिकारी,प्रभात भूषण,डीसीएलआर संजय कुमार सभी कोषांगों के पदाधिकारी उपस्थित थे।-डीपीआरओ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.