BIHARBreaking NewsPATNASTATE

CorovaVirus: चीन के वुहान की तरह पटना में भी बनेगा कोरोना अस्पताल, दो दिनों बाद फिर मिला नया म’रीज…

पटना, जेएनएन। CoronaVirus: बिहार के लिए बड़ी खबर यह है कि बीते रविवार तक तीन म’रीज मिलने के बाद मंगलवार को फिर एक नया कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मामला मिला। इस बीच बिहार सरकार ने पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (NMCH)  को कोरोना स्पेशल अस्पताल (Corona Special Hospital) बनाने का बड़ा फैसला लिया है। एनएमसीएच में अब केवल कोरोना सं’क्रमित व संदिग्‍ध म’रीजों का इला’ज होगा। यह अस्‍पताल चीन के वुहान शहर में कोरोना के इ’लाज के लिए बनाए गए अस्‍पताल की तरह का ही होगा। एनएमसीएच में पहले से भर्ती अन्‍य म’रीज पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (PMCH) में शिफ्ट किए जाएंगे।

पटना के एनएमसीएच को स्‍पेशल अस्‍पताल का दर्जा

बिहार में कोरोना के बढ़ते सं’दिग्‍धों को देखते हुए और पॉजिटिव मा’मलों के सामने आने की आशंका बनी हुई है। शनिवार व रविवार को तीन मामले मिलने के बाद मंगलवार को फिर नया पॉजिटिव मामला समाने आया। इस बीच सरकार ने एहतियातन लॉक डाउन (Lock Down) की घोषणा कर दी है। इसका मकसद है कि लोग घरों में रहें, ताकि संक्रमण (Infection) आगे अन्‍य लोगों में नहीं फैल सके। इस बीच जो भी संक्रमित मिलें, उनका इलाज हो सके। कोरोना संक्रमितों के इ”लाज के लिए ही सरकार ने पटना के एनएमसीएच को स्‍पेशल अस्‍पताल का दर्जा दिया है। इसे सरकार की आगे की तैयारी मान सकते हें।

मंगलवार को राज्य के मुख्य सचिव स्वास्थ्य के प्रधान सचिव के स्तर पर हुई एक बैठक में इस निर्णय पर सहमति बनी। स्वास्थ्य सूत्रों की मानें तो इस अस्पताल को चीन के वुहान शहर में विकसित किए गए अस्पताल के तरह विकसित किया जाएगा। वुहान प्रशासन ने वहां कोरोना के मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए एक अस्पताल को कोरोना के लिए डेडीकेटेड अस्पताल के रूप में विकसित कर दिया था, जिसमें कोरोना के सभी संक्रमित और संदिग्ध म’रीजों को भर्ती कर इ’लाज किया गया था।

बिहार के सर्वाधिक कोरोना संदिग्‍ध गोपालगंज में

बिहार में अभी तक कोरोना के चार संक्रमित म’रीज मिले हैं। उनमें एक युवक की मौ’त पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS) में हो गई। खास बात यह रही कि युवक की मौ’त के बाद उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। इस बीच राज्‍य में मंगलवार की दोपहर तक कोरोना की आशंका होने पर कुल 909 लोगों को सर्विलांस पर लिया जा चुका था। इनमें सर्वाधिक 172 मा’मले गोपालगंज (Gopalganj) के हैं। सौ मामलों के साथ दूसरे स्‍थान पर पटना (Patna) है। जांच के लिए भेजे गए 192 सैंपल की रिपोर्ट मिले, जिनमें चार पॉजिटिव हैं।

लॉक डाउन को ले सख्‍त का’र्रवाई की तैयारी में प्रशासन

बिहार में लॉक डाउन बीते दिन से जारी है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की घोषणा के बाद अब यह यह अगले 21 दिनों तक जारी रहेगा। हालांकि, इसे लेकर अभी लोगों में पूरी सजगता नहीं देखी जा रही है। इस कारण प्रशासन अब सख्‍त का’र्रवाई की तैयारी में है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.