Breaking News

बिहार के प्रमुख देवी मंदिर से देखिए मां की आरती:कलश स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र की शुरुआत; पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा

सोमवार को कलश स्थापना के साथ नवरात्र की शुरुआत हो गई। शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना के साथ ही मां दुर्गा की आराधना शुरू हो गई। पहले दिन मां के प्रथम रूप शैल पुत्री की पूजन प्राण प्रतिष्ठा की जा रही है।

इस मौके पर बिहार में सभी देवी मंदिर में भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी है। इस बार नवरात्रि पर्व बेहद खास है। देवी दुर्गा का आगमन हाथी पर हो रहा है, जो काफी शुभ माना जाता है।

आरा स्थित मां आरण्य देवी मंदिर।

आरा स्थित मां आरण्य देवी मंदिर।

नवरात्र अनुष्ठान को लेकर पूजा-सामग्री के लिए बाजार में रविवार को रौनक रही। खास तौर से पूजन सामग्री की दुकानों में भीड़ दिखी। 

बिहारशरीफ से शीतला मंदिर, छपरा से अंबिका भवानी, सासाराम से मां ताराचंडी, जमुई से मां नेतुला मंदिर, मुंगेर के मां चंडिका देवी, सहरसा से उग्रतारा स्थान, पूर्णिया से धीमेश्वर स्थान, गोपालगंज से थावे मंदिर, आरा से आरण्य देवी और मधुबनी से मिथिला शक्तिपीठ मंदिर

भागलपुर में अयोध्या के राम मंदिर स्वरूप का होगा पंडाल

भागलपुर में अलग-अलग दुर्गा पूजा समिति की ओर से कुल 25 पंडाल बनाए जा रहे हैं। जो काफी ज्यादा आकर्षक होने वाला है। ऐसे में हम आपको शहर के 5 सबसे बड़े पंडाल के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां देश भर के प्रसिद्ध मंदिरों का नजारा देखने को मिलेगा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.