Breaking News

मुजफ्फरपुर : आधा कारोबार बिना चालान होने का मिला था इनपुट, तीन जर्दा कारोबारियों के ठिकानों पर शहर में छापा

इनकम टैक्स चाेरी करने के मामले में बुधवार काे शहर के तीन बड़े जर्दा काराेबारी के ठिकाने पर छापेमारी की। इस दाैरान कैश, कागजात बरामद करके टीम लाैट गई। इस बीच आयकर की एक टीम शहर के बड़े जर्दा काराेबारी राजेश अग्रवाल उर्फ बाबू भाई के घर छापेमारी को पहुंची।/

यह कारोबारी के पड़ाेसी जदयू नेता व लहसुन काराेबारी देवानंद के यहां पहुंच गई। कई घंटे टीम जदयू नेता के यहां जमी रही। इस छापेमारी के पीछे की कहानी बताई जा रही है कि इनकम टैक्स टीम काे इनपुट मिला है कि यहां पान मसाला के काराेबार में बड़े स्तर पर गाेरखधंधा है।

आधा माल पक्का बिल से ताे बाकी का आधा माल कच्चा बिल से चल रहा है। यह सब इनकम टैक्स चाेरी के लिए किया जाता है। हवाला के माध्यम से काराेबारी लेन-देन करते है। इन्हीं सब इनपुट काे लेकर टीम ने मुजफ्फरपुर शहर में धावा बाेला।
काराेबारी के पड़ाेसी जदयू नेता के घर घंटों बैठी रही

इसके अतिरिक्त इनकम टैक्स टीम ने काजी महम्मदपुर थाना क्षेत्र के प्रजापति ब्रह्माकुमारी लेन में स्थित माली टाेला निवासी जर्दा काराेबारी प्रदीप कुमार शर्मा के घर व कल्याणी चाैक स्थित केदारनाथ राेड निवासी दिलीप केसरी के घर पर भी छापेमारी की। छापेमारी व सर्वे के दाैरान किसी काे घर के अंदर जाने की इजाजत नहीं थी। जर्दा काराेबारी बाबू भाई के पड़ाेसी जदयू नेता देवानंद का कहना है कि पड़ाेसी हाेने की वजह से टीम हमारे यहां पहुंची। टीम काे यह किसी ने बताया हाेगा कि हम दाेनाें में काेई संबंध है। जमीन हम उसी परिवार के करीबी से लिए था। कागजात दिखाने में विलंब हुअा। जिसकी वजह से टीम बहुत देर तक थी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.