BIHARBreaking NewsCricketNationalSPORTSSTATE

बड़ी खबर : विराट कोहली ने टी20 और वनडे के बाद छोड़ी टेस्ट कप्तानी, सोशल मीडिया पर लिखा भावुक पोस्ट

नई दिल्ली. दुनिया के धुरंधर बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली (Virat Kohli) ने शनिवार को टेस्ट फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ने का ऐलान कर दिया. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक भावुक पोस्ट लिखकर इसकी घोषणा की और अपने फैंस को हैरान कर दिया. विराट ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) से पहले ही खेल के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया था. इसके बाद वनडे टीम की कप्तानी उनसे छीन ली गई थी. अब उन्होंने सबसे लंबे फॉर्मेट में भी कप्तानी छोड़ दी है.विज्ञापन

33 साल के विराट कोहली ने 2014 में टेस्ट फॉर्मेट में कप्तानी संभाली थी. उन्होंने अब तक अपने टेस्ट करियर में 99 मैच खेले हैं और 7962 रन बनाए. इनमें से 68 मुकाबलों में विराट ने भारतीय टेस्ट टीम का नेतृत्व किया और इस दौरान कुल 5864 रन बनाए. वहीं, कप्तानी नहीं करते हुए उन्होंने 31 टेस्ट मैच खेले और 2098 रन बनाए.

विराट कोहली की कप्तानी में भारत को हाल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 1-2 से हार झेलनी पड़ी. टेस्ट सीरीज के खत्म होने के 2 दिन बाद ही उन्होंने इस फॉर्मेट में नेतृत्व नहीं करने का फैसला कर लिया. अब विराट किसी भी फॉर्मेट में टीम इंडिया की कप्तानी नहीं करेंगे. 68 टेस्ट में कप्तानी संभालने वाले विराट इस फॉर्मेट में भारत के सबसे सफल कप्तान हैं. उनकी कप्तानी में भारत ने 40 टेस्ट मैचों में जीत दर्ज की.

विराट ने अपने पोस्ट में लिखा, ‘मेहनत और टीम को सही दिशा में ले जाने के लिए लगातार हर रोज प्रयास करते हुए 7 साल हो गए. मैंने इस काम को पूरी मेहनत से किया है ताकि कुछ भी ना छूट पाए. हर किसी चीज का एक अंत होता है और मेरे लिए अब टेस्ट कप्तानी का है. अब. इस सफर में बहुत से पड़ाव आए लेकिन कभी भी विश्वास और कोशिशों में कमी नहीं की.’

भारतीय टीम ने विराट की कप्तानी में कमाल का प्रदर्शन किया. 2015-16 सीजन में भारत ने श्रीलंका को उसके घर में हराया और फिर दक्षिण अफ्रीका पर विजय प्राप्त की. 2016 में ही भारत ने वेस्टइंडीज को मात दी और फिर घरेलू सीजन में लगातार 13 टेस्ट मैच जीते. भारत ने उस सीजन में लगातार 4 टेस्ट सीरीज जीतीं. उसे एकमात्र हार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पुणे में मिली.

फिर 2017-18 सीजन में भारत ने श्रीलंका पर बैक-टू-बैक सीरीज जीती.साल 2018 में भारत को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका से सीरीज में हार झेलनी पड़ी लेकिन फिर दमदार अंदाज में वापसी की और ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट सीरीज में हराने वाले पहले एशियाई कप्तान बने. भारत ने फिर वेस्टइंडीज (2-0), दक्षिण अफ्रीका (3-0) और बांग्लादेश (2-0) को हराया.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.