Breaking NewsHealth & WellnessNational

अ’लर्ट : बार-बार सीटी स्कैन सेहत के लिए हा’निकारक, बढ़ जाती है कैं’सर की संभावना

नई दिल्ली ।

कोरोना वायरस की पहचान करने के लिए मरीजों को सीटी स्कैन करवाना पड़ रहा है लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि इसकी रेडिएशन काफी ख’तरनाक होती है । एक एचआरसीटी स्कैन करीब तीन सौ एक्सरे के बराबर रेडिएशन देता है,इससे काफी नुकसान मरीज को हो सकता है ।
इसलिए बार-बार सीटी स्कैन कराने की आवश्यकता नहीं है ।

यह कहना है नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का । डॉ. गुलेरिया ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कई लोगों को कोरोना के लक्षण होने के बाद भी उनका कोविड टेस्ट निगेटिव आ रहा है जिसके बाद डॉक्टर उन्हें सीटी स्कैन कराने की सलाह दे रहे हैं लेकिन अगर कोरोना के हल्के लक्षण हैं तो सीटी स्कैन कराने की कोई जरूरत नहीं है । सीटी स्कैन सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है । इसे कराने के बाद कैंसर की संभावना बढ़ सकती है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.