BIHARBreaking NewsEDUCATIONSTATE

17 दिन बाद भी मास्क नहीं पहुंचा : हर बच्चे को 2-2 मास्क देना था, पटना सहित किसी जिले में अब तक स्टॉक नहीं पहुंचा; 1 मास्क देना भी मु’श्किल

स्कूलों तक सरकार का आदेश तो पहुंच गया लेकिन इस आदेश के 17 दिन बाद भी मास्क नहीं पहुंचा। अब बच्चों को बिना मास्क स्कूल आने की मजबूरी होगी। पटना से लेकर प्रदेश के अन्य जिलों में भी यही हाल है। एक छात्र को दो-दो मास्क देना है लेकिन अब तक जो सप्लाई हुई है, उससे हर बच्चे को दो-दो मास्क का आंकड़ा संभव नहीं है। प्रदेश के किसी भी जिले में पर्याप्त मास्क की सप्लाई नहीं हो सकी है।

पटना में 3 लाख मास्क की डिमांड सप्लाई महज 2 लाख की

पटना में 1 लाख 58 हजार 717 बच्चों का नामांकन हुआ है। इस हिसाब से 3 लाख 17 हजार 434 मास्क की आवश्यकता है। लेकिन अब तक जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय को महज 2 लाख 15 हजार 395 मास्क मिले हैं। सोमवार तक 185 स्कूलों को मात्र 1 लाख 20 हजार मास्क ही दिया गया है। अब सवाल यह है कि शिक्षा विभाग और विद्यालय कैसे बच्चों की सुरक्षा को लेकर दावा कर सकता है। जिला शिक्षा पदाधिकारी ज्योति कुमार का कहना है कि जो भी मास्क मिल रहा है उसे स्कूलों तक भेजने का काम किया जा रहा है। जिला शिक्षा पदाधिकारी को उम्मीद है कि एक दो दिन में पूरा मास्क मिल जाएगा।

अररिया में भी मास्क के बिना स्कूल जाने की होगी मजबूरी

अररिया में भी सरकारी स्कूलों में मास्क का टोटा है। यहां 81 हजार 128 बच्चों का नामांकन हुआ है। इसका डबल मास्क बच्चों को देना है, लेकिन अब तक जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय को महज 64 हजार 128 मास्क ही मिल पाया है। अब सवाल यह है कि बच्चे कहां से मास्क लेकर स्कूल आएं। जिला शिक्षा पदाधिकारी अशोक कुमार मिश्रा का कहना है कि मास्क की डिमांड की गई है। विभाग द्वारा जो भी मास्क मिल रहा है उसकी सप्लाई ब्लाक स्तर पर स्कूलों को की जा रही है।

अरवल में भी अब तक नहीं हो पाई पर्याप्त मास्क की सप्लाई

अरवल में भी मास्क की सप्लाई काफी कम हुई है। जिला शिक्षा पदाधिकारी मधुसूदन पासवान का कहना है कि 24 हजार मास्क ही अब तक मिल पाया है। हालांकि रजिस्ट्रेशन के सवाल पर उनका कहना है कि यह फाइल देखकर ही बताना आसान होगा। वहीं अरवल के स्कूलों से बात करने पर पता चला कि मास्क जो भी सप्लाई हुआ है वह नाकाफी है। बच्चों के हिस्से में दो क्या एक भी मास्क नहीं आ रहा है।

बिहार के अन्य जिलों में भी मास्क का संकट

बिहार के लगभग सभी जिलों में मास्क का संकट है। बिहार सरकार ने जीविका को मास्क की जिम्मेदारी दी थी लेकिन अब तक स्कूलों को पर्याप्त मास्क की सप्लाई नहीं हो पाई है। पटना में लगभग एक दर्जन से अधिक स्कूलों से बात की गई तो पता चला कि मास्क की सप्लाई से समस्या बढ़ गई है। छात्रों की संख्या के अनुसार मास्क नहीं होने से दिक्कत आ रही है। जिला शिक्षा पदाधिकारी तीन दिनों से मास्क का वितरण करा रहे हैं इसके बाद भी सभी स्कूलों के सभी छात्रों के हिस्सों में मास्क नहीं आया है।

मास्क के संकट ने बढ़ाया स्कूलों का सिरदर्द

मास्क की सप्लाई पर्याप्त नहीं होने से स्कूलों के सामने बड़ी मुश्किल हो गई है। स्कूले खुलने के पहने दिन मास्क का वितरण कर दिया गया है। अब समस्या यह है कि स्कूल ने कोई रजिस्टर नहीं बनाया है कि किसे मास्क दिया गया और किसे नहीं। स्कूलों ने सप्लाई कम होने के कारण बच्चों को एक-एक मास्क ही दिया है। अब स्कूल कैसे बच्चों को दूसरा मास्क देगा, यह बड़ा सवाल है। विभाग भी मास्क की गणना करके ही स्कूलों को दे रहा है। ऐसे में किसे एक मास्क मिला किसे दो या फिर किसे चार मिल गया इसका पता लगाना स्कूलों के लिए बड़ी चुनौती होगी। इसमें कई बच्चे ऐसे भी होंगे जिनतक मास्क पहुंच ही नहीं पाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.