Breaking NewsDELHI

उत्‍तर भारत में 5 जनवरी तक भारी बारिश की संभावना, इन राज्‍यों में बढ़ेगी ठिठुरन

उत्तर भारत (North India) में पांच जनवरी तक भारी बारिश जारी रहने का अनुमान है. इसके साथ ही अलग-अलग स्थानों पर बारिश के अलावा ओलावृष्टि का भी पूर्वानुमान है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को यह जानकारी दी. आईएमडी के मुताबिक, इस तरह की मौसमी गतिविधियां मैदानी इलाकों (पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान) में रविवार और सोमवार को जबकि सोमवार से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र (जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड) में चरम पर रहेंगी. विभाग ने कहा कि बारिश के बाद उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी भागों में उत्तरी-पश्चिमी हवाओं के चलने का अनुमान है, जिसके चलते सात जनवरी से पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के दूर-दराज के स्थानों पर जबरदस्त शीतलहर चलने की संभावना है.

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश, बर्फबारी का अलर्ट

मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में भारी बारिश और बर्फबारी के लिए चेतावनी जारी की है. शिमला स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने पांच जनवरी तक मैदानों और निचले पहाड़ी इलाकों में बारिश और छह जनवरी तक राज्य के मध्यम और ऊंचे पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का अनुमान जताया है. हालांकि, मौसम केंद्र ने चार जनवरी को मध्यम और ऊंची पहाड़ियों में भारी बारिश और बर्फबारी के लिए ‘येलो’ चेतावनी जारी की है और चार से पांच जनवरी तक मैदानी और निचले इलाकों में गरज के साथ बारिश और बिजली गिरने की चेतावनी जारी की है.

इसके अलावा, मौसम केंद्र ने पांच जनवरी को मध्यम और ऊंची पहाड़ियों में भारी बारिश और बर्फबारी की ‘ऑरेन्ज’ चेतावनी जारी की. इस बीच, शिमला मौसम केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा कि राज्य के ऊंचे पहाड़ी इलाकों में ताजा बर्फबारी हुई, जबकि कुछ अन्य हिस्सों में हल्की बारिश देखी गई. सिंह ने कहा कि गोंडला में 21 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई, इसके बाद कोकसर में 13 सेमी, पूह में 10 सेमी, मनाली में 9 सेमी, सुमडो में 8 सेमी और कल्पा में 6 सेमी बर्फबारी हुई.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि शिमला जिले के चंचल में लगभग दो फुट बर्फबारी हुई. ताजा बर्फबारी के बाद चांशल में डोडरा-कवार रोड अवरुद्ध हो गया. इस बीच, मनाली में 11 मिलीमीटर बारिश हुई, केलांग में 9 मिमी, बिलासपुर में 8 मिमी, धर्मशाला में 7 मिमी, चंबा में 6 मिमी, पालमपुर और कसौली में 5-5 मिमी और शिमला और सोलन में 3-3 मिमी बारिश हुई.


सिंह ने कहा कि इसके अलावा, आदिवासी जिला लाहौल और स्पीति के प्रशासनिक केंद्र केलांग में न्यूनतम तापमान शून्य से 6.1 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो राज्य में सबसे ठंडा स्थान रहा. किन्नौर जिले के कल्पा और चंबा के डलहौजी में न्यूनतम तापमान क्रमश: शून्य से 0.6 और शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. कुफरी और मनाली में न्यूनतम तापमान क्रमश: 3.1 और 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. शिमला में न्यूनतम तापमान 5.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. ऊना में राज्य का अधिकतम तापमान 21.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

उत्तराखंड में बर्फबारी में जम्मू-कश्मीर के पर्यटक की मौ’त
उत्तराखंड में गढ़वाल और कुमांउ के पहाड़ी क्षेत्रों में रविवार को बर्फबारी हुई जिसमें जम्मू-कश्मीर के एक युवक की भी मौत हो गई. राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआरएफ) ने बताया कि 22 वर्षीय उदयुत शर्मा की स्की रिजार्ट औली के आगे गरसू टॉप में बर्फबारी में फंसने से मृत्यु हो गई. नोएडा में रहकर पढ़ाई करने वाला यह युवक अपने चार अन्य सहपाठियों के साथ शनिवार दो जनवरी को औली आया था और वहां से सभी भ्रमण के लिए आगे निकल गए. इस दौरान अन्य चार युवक तो वापस आ गए लेकिन उद्युत वापस नहीं आया.

जानकारी मिलने पर एसडीआरएफ ने तलाशी अभियान चलाया, जिसमें औली से चार किलोमीटर आगे गरसू टॉप से उद्युत का शव बरामद किया गया. इस बीच, उत्तराखंड के कई इलाकों में रविवार को बर्फबारी हुई, जिससे पूरा प्रदेश भीषण ठंड की चपेट में आ गया.

गढ़वाल और कुमांउ के ऊंचाई वाले इलाकों जैसे केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, औली, मुनस्यारी आदि इलाकों में बर्फबारी होती रही. मैदानी इलाकों जैसे देहरादून में शनिवार रात से रूक-रूक कर बारिश होती रही.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.