BIHARBreaking NewsCRIMESTATE

बिहार : जिसकी ह’त्या के आ’रोप में दो लोग स’जा का’ट रहे थे, वह महिला जिं’दा निकली, बेटे को लेकर चली गई थी मुंबई

SARAN : बिहार के सारण जिले में जिस महिला की ह’त्या के आ’रोप में दो लोग स’जा का’ट रहे थे, उस महिला को पुलिस ने उसके बेटे के साथ ब’रामद किया है. पुलिस ने जब मामले का खुलासा किया तो सभी के होश उड़ गए. खुद पुलिसकर्मी भी घ’टना की सच्चाई जानकार हैरान थे. दरअसल, साल 2019 के मई महीने में डेरनी थाने के ककरहट गांव से एक महिला अपने बेटे के साथ गायब हो गई थी. घ’टना के दो दिन बाद पुलिस को डाबरा नदी के किनारे से एक महिला का श’व मिला जिसकी पहचान नहीं होने पर चौकीदार के बयान पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली थी.

अगले दिन जब मामला अखबार में छपा तो श’व की पहचान गायब महिला के पिता परसा थाने के बाजितपुर गांव निवासी विजय सिंह ने अपनी बेटी स्वीटी देवी के रूप में की. पहचान होने के बाद विजय सिंह ने स्वीटी के पांच ससुराल वाले को नामजद अभियुक्त बनाया था, जिसमें पुलिस ने एक महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. काफी जांच के बाद पुलिस को जब शक हुआ तब तकनीकी साक्ष्य के आधार पर मुजफ्फरपुर से महिला को उसके बच्चे समेत पकड़ कर व्यवहार न्यायालय में सुपुर्द किया गया.

बाद में स्वीटी ने मामले की जानकारी दी. उसने बताया कि उसकी शादी डेरनी थाना क्षेत्र के ककरहट गांव के मनबोध कुमार से 2008 में हुई थी जिससे दोनों के दो पुत्र थे. शादी के बाद मनबोध की दिमागी हालत ठीक नहीं रह रही थी. 15 मई 2019 को स्वीटी अपने 7 वर्षीय छोटे बेटे पवन को ऑटो में बैठाकर अपने ससुराल से निकल गई और सीधा मुंबई चली गई थी .  

अब जिस महिला की ह’त्या के जुर्म में एक महिला समेत दो लोग जेल की सज़ा काट रहे थे उन्हें पुलिस ने महिला के सकुशल बरा’मदगी के बाद रिहा कर दिया. हालांकि मामला यहीं नहीं सुलझता है. पुलिस के लिए अब ये जांच का विषय बन गया है कि जिस बॉडी की पहचान स्वीटी के परिजनों ने स्वीटी के रूप में की थी, वह किसकी है.  पुलिस इस मामले पर नए सिरे से जांच कर रही है. 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.