Breaking NewsSTATE

Lockdown के दौरान Big Bazaar कराएगा डोरस्टेप डिलीवरी, इन राज्यों में घर तक पहुंचाएगा सामान, जानें…

कोरोना वायरस के चलते देश में 21 दिन के लॉकडाउन का आज पहला दिन है. पीएम मोदी ने बड़ा कदम उठाते हुए देश में संपूर्ण लॉकडाउन लागू कर दिया है. हालांकि ऐसे में कुछ जरूरी सेवाओं के लिए अनुमति दी गई है जिसमें राशन की दुकानों, फल, सब्जी के स्टोर और दवाओं की दुकानों को भी खुली रखने के आदेश दिए गए हैं.

बिग बाजार ने भी ऐसे मु’श्किल समय में अपने ग्राहकों को जरूरी सामानों के लिए प’रेशान न होने और डोरस्टेप डिलीवरी देने का एलान किया है. देश की राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में बिग बाजार ने डोरस्टेप डिलीवरी का एलान किया है.

बिग बाजार ने इसको लेकर ट्विटर पर कई राज्यों में डोरस्टेप डिलीवरी से जुड़े फोन नंबर और जगहों के नाम जारी किए हैं जहां से ग्राहक ऑर्डर करके घर पर ही ग्रॉसरी का सामान मंगा सकते हैं यानी डोरस्टेप डिलीवरी हासिल कर सकते हैं. इसके लिए ग्राहक कॉल कर सकते हैं या व्हाट्सएप भी कर सकते हैं.

ऐसे में लोगों के लिए ये अच्छी खबर है क्योंकि अब उन्हें लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर जाने की कोई जरूरत नहीं है और वो अपनी आवश्यकता का सामान घर पर ही मंगा सकते हैं

बिग बाजार ने बंग्लुरू, पटना, रांची, भुवनेश्वर, गुवाहाटी जैसी जगहों के लिए डोरस्टेप डिलीवरी का भी एलान किया है और इन जगहों के लिए नंबर जारी किए हैं.

इसके अलावा बिग बाजार ने महाराष्ट्र, मुंबई, गुजरात और राजस्थान के लिए ट्वीट किए हैं और इसमें जानकारी दी है कि किन नंबरों पर कॉल करके ग्राहक अपने ऑर्डर मंगा सकते हैं.

मुंबई के अलग-अलग स्थानों के लिए भी बिग बाजार ने जगहों की लिस्ट और फोन नंबर जारी किए हैं.

गुजरात के लिए बिग बाजार ने वापी, राजकोट, भावनगर सहित और भी कई शहरों में डोरस्टेप डिलीवरी करने की लिस्ट जारी की है.

हालांकि बिग बाजार ने एक और ट्वीट भी किया है जिसमें लिखा है कि लॉकडाउन के चलते भारी संख्या में उसे डोरस्टेप डिलीवरी की रिक्वेस्ट मिल रही हैं लेकिन सीमित गतिविधियों के चलते लोगों को डिलीवरी मिलने में कुछ देरी हो सकती है.

बता दें कि 21 दिनों के लॉकडाउन में जरुरी सेवाएं जैसे राशन, फल, सब्जी, दूध, मांस, मछली, मवेशियों के चारे, बैंक, एटीएम, पेट्रोल पंप आदि के खुले रखने के निर्देश दिए गए हैं, हालांकि मॉल, जिम, स्पा, शिक्षण संस्थाएं आदि बंद रहेंगे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.