Breaking News

अग्निपथ बवाल:रंजन दूबे के पिता काे पुलिस ने थाने से छोड़ा, काेर्ट में पुलिस पर परिवाद

अग्निपथ के खिलाफ बवाल मामले में सदर थाने की पुलिस ने आर्मी भर्ती ट्रेनिंग सेंटर चलाने वाले रंजन दूबे के पिता सुबाेध दूबे काे मंगलवार काे मुक्त कर दिया। उसके भाई राजेश कुमार ने सीजेएम काेर्ट में परिवाद दर्ज करा कहा कि 19 जून काे सुबाेध काे सदर पुलिस पूछताछ के लिए ले गई। उसके बाद से उसका काेर्ई पता नहीं चल रहा। फर्जी मामले में पुलिस उसे फंसा सकती है। इस आलाेक में काेर्ट ने सदर थानेदार से जवाब-तलब किया है।

उधर, पुलिस काे सदर थाना क्षेत्र के डुमरी दूबे टाेला निवासी रंजन दूबे की तलाश है। उस पर लड़काें काे भड़काने का आराेप है। हालांकि, काेई प्राथमिकी दर्ज नहीं हुर्ई है। रंजन समझ कर ही पुलिस ने उसके पिता सुबाेध दूबे काे हिरासत में लिया था। इसके बाद इनकम टैक्स की टीम ने भी उसके यहां छापेमारी कर कई कागजात जब्त किए। पूछताछ के बाद पुलिस ने सुबाेध काे मुक्त कर दिया।

कोचिंग संचालकों के ठिकानों पर छापेमारी, रजिस्टर जब्त

मिठनपुरा, काजीमोहम्मदपुर, सदर, अहियापुर थाना क्षेत्र स्थित कई कोचिंग संस्थानाें पर पुलिस टीम ने छापेमारी की। दो कोचिंग से कागजात व रजिस्टर जब्त किए। शारीरिक प्रशिक्षण की तैयारी करानेवाले 7 प्रशिक्षकों की भूमिका संदेह के घेरे में है। पुलिस व एसटीएफ को हाथ लगे वहाटसएप ग्रुप पर हुई चैटिंग से विशेष टीम को अहम साक्ष्य मिले हैं।

पूर्व सैनिक संघ ने जनजागरण अभियान चला दूर किया भ्रम

कुशी हरपुर होरिल के शिव मंदिर पर मंगलवार काे भूतपूर्व सैनिक संघ ने अभियान चला युवाओं का अग्निवीर योजना के प्रति भ्रम दूर िकया। पूर्व जिलाध्यक्ष रामप्रवेश सिंह, संयोजक मनाेज सिंह आदि ने बताया कि इनकी आड़ में सरकार विरोधी ताकतों ने देश से घात किया। एक सैनिक कभी भी देश को नुकसान करने की नहीं सोच सकता है।

आरडी फिजिकल एकेडमी के संचालक के घर दूसरे दिन भी आयकर सर्वे, कागजात की हाे रही छानबीन

अग्निपथ के खिलाफ छात्राें काे भड़काने के मामले में काेचिंग संस्थानाें पर पुलिस की दबिश के साथ आयकर की कार्रवाई भी तेज हाे गई है। मंगलवार काे लगातार दूसरे दिन अधिकारियाें ने सदर थाना के दुबे टाेला स्थित आरडी फिजिकल ट्रेनिंग एकेडमी के संचालक रंजन दुबे के घर पर धावा बाेला। आईटी की टीम ने आयकर सर्वे किया। कई कागजात ले गई।

विभाग के मुताबिक, कागजात की जांच चल रही है। एक दिन पहले भी आयकर की टीम ने पुलिस के साथ रंजन दुबे के घर पर कागजात खंगाले थे। हालांकि, रंजन दुबे फरार है। उस पर युवाओं काे उकसाने का आराेप है। सर्वे में आयकर अधिकारी काैशल कुमार, इंस्पेक्टर शंभु कुमार, मनीष कुमार, राेहित कुमार, संदीप कुमार, राैशन कुमार आदि शामिल थे।

भड़काऊ पोस्ट को लेकर दर्ज हुई प्राथमिकी

बंद के दौरान एक ग्रुप में भड़काऊ पोस्ट डालने को लेकर इकबाल अहमद के खिलाफ मंगलवार को नगर थाने में जमादार कुंदन ओझा के बयान पर एफआईआर दर्ज की गई। दारोगा ने कहा है कि बंद के दौरान सोमवार दोपहर पौने 3 बजे दाता कंबल शाह मजार के पास पहुंचे ताे लोगों को कहते सुना कि प्लीजेंट लाइफ नाम से ह्वाट्सएप पर संचालित ग्रुप में दो वर्ष पूर्व का वीडियो मैसेज पोस्ट किया गया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.