Breaking NewsCRIMEUTTAR PRADESH

आजमगढ़ के बसपा विधायक पर छे’ड़छा’ड़ का मु’कदमा द’र्ज, जानें…

आजमगढ़ के बसपा विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली पर उनकी कंपनी में काम करने वाली एक युवती ने छे’ड़छा’ड़ का आ’रोप लगाते हुए गोमतीनगर थाने में मु’कदमा द’र्ज करवाया है। पी’ड़िता का कहना है कि शाह आलम ने उसे नौकरी में तरक्की देने का ला’लच देते हुए शारीरिक सम्बंध बनाने का द’बाव बनाया। इ’नकार करने पर शाह आलम ने खुद व कंपनी के अन्य अधिकारियों से उ’से धम’की दिलवाई। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मु’कदमा द’र्ज करके जांच शुरू कर दी है। एसीपी गोमतीनगर संतोष कुमार सिंह ने बताया कि बसपा विधायक शाह आलम की पूर्वांचल प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड नाम से कंपनी है, जिसके वह सीएमडी हैं। फैजाबाद रोड स्थित एक अपार्टमेंट में रहने वाली पी’ड़िता का कहना है कि मई 2019 में शाह आलम ने उसे अपनी कंपनी में डिप्टी मैनेजर सेल्स एंड मार्केटिंग पद पर नियुक्ति किया।

पी’ड़िता का आ’रोप है कि नियुक्ति के बाद से ही शाह आलम ने उसे व्हाट्स एप पर पर्सनल मैसेज भेजना और वीडियो कॉल करना शुरू कर दिया। वह किसी न किसी बहाने उससे निजी बातें करते। पी’ड़िता का कहना है कि एक दिन शाह आलम ने उसे फोन करके अपने घर पर मिलने बुलाया। आ’रोप है कि वह घर पहुंची तो शाह आलम ने उसे नौकरी में त’रक्की देने का ला’लच देते हुए शारीरिक सम्बंध बनाने का प्रयास किया। इस दौ’रान शाह आलम ने अ’श्लील हर’कतें करते हुए उसे कमरे में खींचने की कोशिश की। उसने इसका कड़ा वि’रोध करते हुए पुलिस से शि’कायत करने की चे’तावनी दी तो शाह आलम ने भविष्य में ऐसा न करने का भ’रोसा दिलाया। जिसके बाद वह वापस कंपनी में काम करने लगी।

राजस्व चो’री का आ’रोप
पी’ड़िता का आ’रोप है कि इस दौ’रान शाह आलम ने कंपनी में काम करने वाली अन्य महिला कर्मचारियों के साथ भी सम्बंध बनाने का प्रयास किया। जिसके साक्ष्य उसके पास मौजूद हैं। पी’ड़िता का यह भी आ’रोप है कि शाह आलम ने कंपनी के एक करोड़ 40 लाख और दो करोड़ 19 लाख रुपये के फ्लैट की रजिस्ट्री 70 लाख और 85 लाख रुपये में की। शेष रकम ग्राहकों द्वारा नगद में ली जाती रही। ऐसा करके शाह आलम व उनकी कंपनी ने सरकार को करोड़ों के राजस्व का नुक’सान पहुंचाया। जिसमें शाह आलम का साथ कंपनी के एजीएम अक्षित कपूर और महिला एचआर मैनेजर ने दिया।

नौकरी से निकालने की ध’मकी
पी’ड़िता का कहना है कि वह लगातार कंपनी में काम करते हुए शाह आलम की गतिविधियों पर नजर रखे रही। जनवरी 2020 में शाह आलम ने एक बार फिर उस पर शारीरिक सम्बंध बनाने का द’बाव बनाना शुरू किया। आ’रोप है कि उसके मना करने पर शाह आलम ने एचआर मैनेजर को उसके पास भेजकर दबा’व बनवाया। इस पर भी वह नहीं मानी तो शाह आलम ने कंपनी से निकालने की ध’मकी दी। पी’ड़िता का कहना है कि वह सभी सबूत पुलिस को सौंपेगी। सीओ ने बताया कि तहरीर के आधार पर सीएमडी शाह आलम, एजीएम अक्षित कपूर और महिला एचआर मैनेजर के खि’लाफ मु’कदमा द’र्ज करके जां’च शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.