BIHARBreaking NewsSTATE

मुजफ्फरपुर के SKMCH में नवजात की अदला-बदली, प्रसूता को बेटे की जगह थमा दी बेटी

मुजफ्फरपुर SKMCH के मातृ-शिशु सदन वार्ड में मंगलवार सुबह जमकर हंगामा हुआ। मामला बच्चे की अदला-बदली का था। अस्पताल कर्मियों की लापरवाही के कारण बेटा वाले को बेटी थमा दिया। नवजात के बदले जाने पर परिजन ने खूब हंगामा किया। कर्मियों पर साजिश के तहत बच्चा बदलने का आरोप लगाया। मामला पुलिस तक पहुंचा। खोजबीन शुरू हुई। उस महिला और उसके परिजन को खोज निकाला गया, जिसके पास बदला हुआ बेटा था। उससे बेटा लेकर असल परिजन को सौंपा गया और बेटी लेकर उसके परिजन को दिया गया। तब जाकर मामला शांत हुआ।

बुलआ के पूजा देवी के परिजन नंदू कुमार ने आरोप लगाया कि सोमवार शाम को उनकी पत्नी ने बेटे को जन्म दिया। उस समय वहां पर सफाई करने वाले से लेकर अन्य महिला कर्मियों ने एक हजार इनाम के रूप में मांगा। 500 देने पर नहीं लिए। 800 रुपए किसी तरह से दिए गए।

तेल मालिश को कपड़ा हटाया तो बेटी निकली
जब बच्चे को तेल मालिश करने के लिए कपड़ा से बाहर किया गया तो वह पुत्री निकल गई। उनके बाद परिजन परेशान होकर खोजने लगे। इधर, कुढनी की सुजाता देवी ने बताया कि उन्हें बेटी हुई थी। बेटी होने के बाद नर्स उनके पास लाकर रख दी। मंगलवार सुबह जब नवजात ने शौच किया तो पता चला कि यह लड़का है। उसके बाद नर्स को बुलाकर उसको लौटा दिया।

मारपीट पर उतारू हो गए परिजन
बच्चा बदले जाने को लेकर परिजन इतने आक्रोशित हो गए की मारपीट पर उतारू हो गए। हालांकि सुरक्षा गार्डों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया। इस संबंध में अधीक्षक डा.बीएस झा ने बताया कि किसी को भी बच्चे के जन्म के बाद इनाम के रूप में राशि या मिठाई के नाम पर पैसा लेने की इजाजत नहीं है। जो कर्मी ऐसा कर रहे उनके बारे में जांच की जाएगी। परिजन से लिखित शिकायत करने को कहा गया है। अस्पताल प्रबंधक संजय साह ने बताया कि बच्चा बदलने का मामला सामने आने के बाद छानबीन की गई। लेकिन यह मानवीय भूल के कारण ऐसा हो गया था। सब कुछ सामान्य हो गया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.