BIHARBreaking NewsMUZAFFARPURSTATE

गुजरात से मुजफ्फरपुर के लिए एक और ट्रेन, जानिए इसकी टाइमिंग

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने देश में फिर से एक साल पहले वाली स्थिति उत्पन्न कर दी है। इसकी वजह से राज्य से बाहर रह रहे लोगों में एक घबराहट है। वे वापस लौटना चाह रहे हैं। खासकर गुजरात और महाराष्ट्र से। इसको देखते हुए रेलवे प्रशासन ने गुजरात से मुजफ्फरपुर और पटना के लिए एक-एक स्पेशल ट्रेन के परिचालन का फैसला किया है। मुजफ्फरपुर आने वाली ट्रेन का परिचालन सूरत से होगा जबकि पटना आने वाली ट्रेन का परिचालन अहमदाबाद से। यह जानकारी पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ राजेश कुमार ने दी है। 

आइये, हम आपको इन दोनों स्पेशल ट्रेनों की टाइमिंग, दिन और तारीख की जानकारी आपको देते हैं। सूरत से मुजफ्फरपुर आने वाली ट्रेन का परिचालन 16 अप्रैल से होने जा रहा है। यह प्रत्येक शुक्रवार को सूरत से खुलेगी और मुजफ्फरपुर पहुंचेगी। इसी तरह से यह व्यवस्था मुजफ्फरपुर से 18 अप्रैल से शुरू होने जा रही है। जो प्रत्येक रविवार को चला करेगी। इस रूट पर यात्रियों की संख्या को देखते हुए इसमें 20 कोच को जोड़ने का फैसला किया गया है। जिसमें स्लीपर श्रेणी के 10, साधारण द्वितीय श्रेणी के चार, सेकेंड एसी के एक, थर्ड एसी के तीन व लगजे के दो कोच होंगे।

कुछ इसी तरह की सुविधा अहमदाबाद से पटना के लिए शुरू होने जा रही ट्रेन में रखी जा रही है। अहमदाबाद-पटना साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन का परिचालन 11 अप्रैल से प्रत्येक रविवार को अहमदाबाद से और 13 अप्रैल का प्रत्येक मंगलवार को पटना से किया जाएगा।जैसा सबको पता है कि इस समय कोरोना संक्रमण के मामले कुछ तेजी से ही बढ़ने लगे हैं। इसलिए रेलवे प्रशासन की ओर से कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना यात्रियों के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। इसके लिए उन्हें जरूरी जांच की प्रक्रिया से गुजरना होगा। ऐसा नहीं करने पर यात्रा से भी वंचित किया जा सकता है। माना जा रहा है कि यह सेवा शुरू हो जाने के बाद गुजरात के दो प्रमुख शहरों अहमदाबाद और सूरत में काम करने वाले बिहार के लोगों को इस भय के माहौल में वापस लौटने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी। वे सहज ढंग से यहां आ सकते हैं। हाेली के बाद संक्रमण की रफ्तार बढ़ने के साथ ही गुजरात और महाराष्ट्र से आने वाली ट्रेनों में यात्रियों की भारी भीड़ देखी जा रही है। इसको देखते हुए सुरक्षा उपायों के साथ ही नई ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.