BAGHABIHARBreaking NewsCRIMEMUZAFFARPUR

हाथों में हथ’कड़ी, नम आंखों से मां की अ’र्थी को बेटे ने दिया कंधा, सबकी आंखें हुईं नम

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के औराई से एक रूह को झकझोर कर रख देने वाली घट’ना सामने आई है। यहां हाथ में हथ’कड़ी लगाए, कंधे पर मां की अर्थी और आंखों में आंसू ल‍िए युवक को ज‍िसने भी देखा वह भा’वुक हो गया। इस अंतिम यात्रा में शामिल होने वाले लोगों ने नम आंखों से मां-बेटे के रिश्ते को देखा। मां के अंतिम संस्कार के बाद युवक को दोबारा हथकड़ी लगाकर जे’ल भेज दिया गया।

जानकारी के अनुसार, औराई थाना कां’ड संख्या 1/21 व 97/20 के प्राथमिक अभियुक्त विस्था गांव निवासी 19 साल के अमित कुमार साहनी को गुरुवार को मां का अंतिम संस्कार करने के लिए पुलिस की निगरानी मे पैरोल पर लाया गया था। औप’चारिकता पूरी होने के बाद उसे तीन घंटे बाद उसे फिर जेल भेज दिया गया। 

इस बारे में ग्रामीण राकेश साहनी ने बताया कि गांव में आपसी भूमि वि’वाद को लेकर कुछ दिनों पहले दो गुटों में मा’रपी’ट हुई थी। मामले में दोनों पक्षों की तरफ से थाने में इसकी शि’कायत की गई थी। उक्त घटना एक जनवरी की बताई जा रही है। इसी मामले में पुलिस ने का’र्रवाई करते हुए अमित कुमार साहनी को गिर’फ्तार करके जेल भेजा था। 

अमित अपनी मां का अकेला सहारा था। उसके जेल जाने के बाद मां को कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ीं। वह विरोधियों के तानों से परेशान रहने लगी थी। वह इस सदमें को बर्दाश्त नहीं कर पाई और बुधवार को उनका निधन हो गया। गुरुवार को कोर्ट के आदेश पर अमित को पैरोल पर बाहर लाया गया। 

इस बारे में थानाध्यक्ष ने कहा कि मा’रपीट’ के आरो’पी को कोर्ट के आदेश पर लाया गया था। उसी आदेश के अनुसार उसे फिर से जेल भेज दिया गया। वहीं परिजनों का कहना है कि उन्हें पैरोल के लिए कई दरवाजे खटखटाने पड़े और जानकारी के अभाव में परेशानी उठानी पड़ी। इस चक्कर में आरोपी की मां का शव 24 घंटे तक रखा रहा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.