Breaking NewsNational

होली में घर आने वालों को स्टेशन और एयरपोर्ट पर ही कराना होगा कोरोना जांच

पटना. देश के 6 राज्यों में कोरोना संक्रमण (Covid-19) में अचानक आई तेजी के बाद बिहार सरकार अलर्ट हो गई है. सभी जिलों में संक्रमित लोगों की पहचान के लिए टेस्टिंग (Corona Testing) का निर्देश दिया गया है. साथ ही मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का कड़ाई से पालन कराने को भी कहा गया है. वहीं, होली (Holi 2021) में बाहर से आनेवाले लोगों को लेकर भी कई फैसले लिए गए हैं.

29 मार्च को होने वाले रंगों के त्योहार होली से पहले लाखों की संख्या में बिहार आनेवाले परदेसियों को लेकर सरकार को अभी से ही चिंता सता रही है. कोरोना संक्रमण का कहर शुरू हुए ठीक 1 साल होने को है और फिर से मार्च में ही बड़ी संख्या में बाहर से लोग बिहार आने वाले हैं. पटना की सिविल सर्जन विभा कुमारी सिंह ने साफ कहा है कि अभी से डॉक्टरों की सूची तैयार की जा रही है, जिन्हें एयरपोर्ट से लेकर रेलवे स्टेशनों और बस स्टॉप पर तैनात किया जाएगा.

सीएस ने कहा कि जिला प्रशासन भी स्वास्थ्य विभाग की पूरी तरह से मदद लेगा, ताकि बाहर से आए लोग जांच कराने से इनकार न कर सकें. डॉक्टरों की टीम के साथ सभी सार्वजनिक जगहों पर मजिस्ट्रेट और पुलिस बल की तैनाती होगी जो बाहर से आने वाले लोगों का थर्मल स्क्रीनिंग के साथ कोविड टेस्ट करेंगे, ताकि बिहार में खत्म हो चुकी संक्रमण की रफ्तार फिर से न बढ़े.

बिहार में पॉजिटिव मरीजों का ताजा आंकड़ा अब 500 के पास तक पहुंच गया है. साथ ही कई जिलों में एक भी पॉजिटिव मरीज नहीं बचे हैं, लेकिन 6 राज्यों में हालात भयावह होती जा रही है. महाराष्ट्र छतीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब, केरल समेत कई राज्यों में आंकड़े बढ़ने लगे हैं. इन राज्यों में बड़ी संख्या में बिहारी लोग रोजगार और मजदूरी करते हैं. इनमें से बड़ी तादाद में लोग होली में घर लौटते हैं. ऐसे में रेलवे प्रशासन के लिए भी एक बड़ी चुनौती है कि लाखों की तादाद में बिहार आने वाले लोगों के लिए ट्रेन में किस तरह का इंतजाम किया जाए.

स्वास्थ्य विभाग ने सभी अस्पतालों को भी अ’लर्ट कर दिया है. प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी जिलों के सिविल सर्जन के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर पूरी व्यवस्था और सं’क्रमण को लेकर समीक्षा बैठक भी की. प्रधान सचिव ने सभी आइसोलेशन सेंटर और आईसीयू को तैयार रखने का निर्देश दिया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.