Breaking NewsTECHNOLOGY

WhatsApp पर नहीं किया ये काम तो 15 मई से नहीं भेज पाएंगे कोई मैसेज! सिर्फ कुछ दिन तक मिलेगी कॉल की सुविधा

वॉट्सऐप प्राइवेसी पॉलिसी (WhatsApp Privacy Policy) 15 मई से प्रभावी हो जाएगी. वॉट्सऐप ने इस बात की जानकारी जनवरी में ही दे दी थी. कंपनी का कहना है कि कुछ महीने ही बचे हैं और अगर यूज़र्स ने नई पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं किया तो वह सभी फीचर्स का ऐक्सेस खो देंगे. यानी कि वह वॉट्सऐप का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. मूल रूप से वॉट्सऐप के मर्चेंट सपोर्ट को भेजे गए एक ईमेल में, वॉट्सऐप ने कहा कि जो लोग 15 मई तक बदलावों को स्वीकार नहीं करेंगे, वे इस ऐप से मैसेज (WhatsApp Message) को पढ़ने या भेजने में सक्षम नहीं होंगे. लेकिन कुछ समय के लिए ये यूज़र्स कॉल (Calls) और नोटिफिकेशन (Notification) रिसीव करने में सक्षम होंगे.

ईमेल में वॉट्सऐप द्वारा बनाए गए एक FAQ पेज का लिंक भी शामिल है, जिसमें बताया गया है कि जो यूज़र नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार नहीं करना चाहते हैं वो 15 मई से पहले अपने अकाउंट को डिलीट कर सकते हैं, रिपोर्ट डाउनलोड कर सकते हैं और अपने पुराने चैट इंपोर्ट कर सकते हैं.

WhatsApp ने अपने FAQ पेज पर इस बात की जानकारी दी है.
WhatsApp ने अपने FAQ पेज पर इस बात की जानकारी दी है.


वॉट्सऐप ने एक ब्लॉग पोस्ट में ये स्पष्ट किया है, ‘मौजूदा शर्तें और प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट पर्सनल मैसेजेज  को प्रभावित नहीं करते हैं. परिवर्तन वॉट्सऐप पर ऑप्शनल बिज़नेस फीचर्स से संबंधित हैं, कंपनी ने इसमें बताया है कि हम डेटा कैसे एकत्रित करते हैं, इसके बारे में और अधिक पारदर्शिता प्रदान करते हैं.’

वॉट्सऐप ने शुरुआत में 8 फरवरी को इन बदलावों को लागू करने की योजना बनाई थी, लेकिन यूज़र्स से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के बाद, कंपनी ने प्रभावी तारीख बढ़ा दी. वॉट्सऐप का कहना है अपडेट के आस-पास कितना भ्रम है ये बात हमने अभी सुनी है. चिंता पैदा करने के लिए बहुत सी गलतफहमी हुई है.


कंपनी के अनुसार यूज़र्स को मई तक बदलावों की समीक्षा करने के लिए पर्याप्त समय मिलेगा है. वॉट्सऐप ने ये भी बताया है कि नई पॉलिसी से क्या बदल जाएगा और क्या पहले जैसा रहेगा. अगर आपको भी वॉट्सऐप को लेकर कंफ्यूजन हैं, तो आपके पास ये सबसे अच्छा मौका है कि अभी से मई के बीच समय निकाल कर इसके बारे में सावधानी से पढ़ लें.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.