BIHARBreaking NewsCRIMEMUZAFFARPURSTATE

कटरा श’राब कां’ड : 4 अलग-अलग ग्रुप की हाेमियाेपैथिक दवा के रैपर लगे बाेतलाें में मंगाई थी नकली श’राब बनाने के लिए स्प्रिट

कटरा ज’हरीली श’राब कां’ड में हाेमियाेपैथी दवा के रैपर लगे बाेतलाें में भरकर शरा’ब बनाने के लिए स्प्रिट मंगाने के काले काराेबार का खुलासा है। कटरा दरगाह के मुशहरी टाेला में जिस जह’रीली श’राब से ‘माै’त हुई थी, उसमें प्रयुक्त हाेने वाले स्प्रिट हाेमियाेपैथिक की चार अलग-अलग ग्रुप की दवाओं के रैपर वाली बाेतल में मंगाई गई थी।

इसका खुलासा रविवार काे शराब के साथ मिले केमिकल के नाम से स्पष्ट हुआ है। उत्पाद विभाग के अधिकारी व कटरा पुलिस ने रविवार काे दरगाह मुशहरी टाेला में झाड़ियाें से 62 बाेतल विदेशी शराब जब्त की थी। इसके अलावा वहां से पुलिस काे हाेमियाेपैथिक दवा ब्रायाेनिया-200 की रैपर लगी 11 बाेतल, रसटाॅक्स-30 की रैपर में 11 बाेतलें, अवेना सटिवा की 4 और मर्कसाेल-30 के रैपर लगे तीन बाेतल स्प्रिट मिला। हर बाेतल 450 एमएल की है।

जानकाराें का कहना है, हाेमियाेपैथिक दवा मंहगी हाेती है। इससे शराब बनाना ज्यादा खर्चीला हाेगा। इसकी अपेक्षा शराब के रूप में मिलने वाली स्प्रिट सस्ता है। उससे शराब बनाना माफियाओं के लिए अधिक मुनाफे वाला धंधा हाेगा। इसलिए इन दवाओं के रैपर लगे बाेतलाें में ही स्प्रिट मंगाई गई हाेगी। दवा के रैपर लगे बाेतलाें में स्प्रिट मंगवाने से रास्ते में पकड़े जाने का खतरा भी कम हाेगा।

अब तुर्की ओ’पी प्रभारी को कटरा थानेदार का चार्ज
कटरा शराबकांड में 5 लोगों की मौत के बाद सस्पेंड हुए थानेदार सिकंदर कुमार की जगह चार्ज लेने वाले दरोगा सुशील कुमार सिंह को एक दिन बाद ही हटना पड़ा। अब तुर्की ओपी प्रभारी ललित कुमार को स्थानांतरित कर कटरा का थाना अध्यक्ष बनाया गया है। उन्होंने सोमवार को कटरा थानेदार का पद ग्रहण किया।

3 बीमाराें के दरभंगा के जाले व सीतामढ़ी में इलाज की चर्चा

कटरा के दरगाह मुशहरी टोले में जहरीली शराब से पीड़ित 3 बीमाराें के पड़ाेसी जिले दरभंगा के जाले व सीतामढ़ी में इलाज कराने की बात सामने आ रही है। धनाैर गांव के एक निजी शिक्षक के भी जहरीली शराब पीकर बीमार हाेने की चर्चा है। खुफिया विभाग की सूचना पर पुलिस उन सबका सुराग ढूंढ़ रही है। पहले ताे चर्चा थी एसकेएमसीएच लाने की, लेकिन यहां मुकेश के अलावा काेई दूसरा मरीज नहीं है। खुफिया विभाग की जानकारी के अनुसार जहरीली शराब कांड के नामजद आराेपित मुकेश सिंह व उसके मृतक पुत्र सोनल सिंह शराब का पुराना धंधेबाज रहा है।

उसने 6 दिन पहले पिकअप पर स्प्रिट मंगवाई थी। उससे नकली विदेशी शराब बना कर औराई, कटरा व गायघाट थाना क्षेत्र सप्लाई की गई। हालांकि, कटरा के दरगाह टाेला के अतिरिक्त दूसरे गांव में जहरीली शराब से किसी के मरने की सूचना नहीं है। बताया गया है कि इस घटना में मृत 5 लोगों के अलावा भी कई लोगों ने शराब पी थी, जिनकी तबीयत बेहद खराब है। घटना सामने आने के बाद इन्हें दरभंगा व सीतामढ़ी के निजी नर्सिंग होम ले जाया गया है।

एफआईआर में नहीं लगाई नकली शराब की धारा, आईजी ने एसएसपी काे दिया निर्देश
दरगाह मुशहरी टाेला में जहरीली शराब से 5 लाेगाें की माैत व कई के गंभीर बीमार हाेने के बाद रविवार काे मिली शराब व केमिकल जब्ती मामले में पुलिस ने एफआईआर की धाराओं में खेल कर दिया है। मामले में मिलावटी व नकली शराब बनाने काे लेकर बिहार मद्य निषेध अधिनियम 2016 की धारा 34 क, ख और 36 के बजाय साधारण ताैर पर शराब जब्ती की धारा 30ए के तहत एफआईआर की है।

यह स्पष्ट हाे चुका है कि दरगाह टाेला में जहरीली शराब बनाने व पिलाने का आराेपित प्रमाेद दास व मुकेश सिंह है। लेकिन, दाेनाें काे नामजद नहीं किया गया है। उपयुक्त धारा नहीं लगाने व नामजद आराेपित नहीं बनाए जाने का कानूनी लाभ भी मिल सकता है। इस पर आईजी गणेश कुमार ने संज्ञान लिया है। उन्हाेंने एसएसपी जयंत कांत काे निर्देश दिया है कि एफआईआर में धारा जाेड़ने के लिए काेर्ट में शीघ्र ही रिपाेर्ट दाखिल कराएं।

कांग्रेस ने मिलकर प्रकट की गहरी शोक संवेदना
कांग्रेस जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार मुकुल ने कहा है कि कटरा प्रखंड के तत्कालीन थानाध्यक्ष के मेलजोल से अवैध शराब की कारोबार फल फूल रहा था। साेमवार काे वह मृतक के आश्रिताें से मिलकर गहरी शोक संवेदना प्रकट किया। पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग की।

^जीवन रक्षक इन हाेमियाेपैथिक दवाओं का ओवरडाेज अन्य केमिकल से मिलकर हाे जाएगा जानलेवाब्रायाेनिया-200, रसटाॅक्स-30, अवेना सटिवा और मर्कसाेल-30 हाेमियाेपैथिक दवाएं हैं। अलग-अलग सिम्टम के अनुसार ये दवाएं बूंद में देना जीवन रक्षक हैं, लेकिन इसी दवा का ओवरडाेज दूसरे केमिकल से मिलने पर जानलेवा हाे सकता है। ये दवाएं स्प्रिट की अपेक्षा मंहगी हैं। इससे शराब नहीं बनाई जा सकती है।
– डाॅ. महेश कुमार, हाेमियाेपैथिक चिकित्सक

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.