Breaking NewsNational

देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि, केंद्र का निर्देश- अफवाहों से बचने के लिए एडवाइजरी जारी करें राज्य

नई दिल्ली. देश में फैल रहे बर्ड फ्लू (Bird Flu) के मद्देनजर भारत सरकार (Government of India) ने राज्यों को एडवाइजरी जारी करने के निर्देश दिए हैं. सरकार का कहना है कि देश के 10 राज्यों में एवियन इन्फ्लुएंजा (बर्ड फ्लू) के मामलों की पुष्टि हुई है. इसके अलावा जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के गांदेरबल और झारखंड (Jharkhand) के चार जिलों में पक्षियों की अप्राकृतिक मौतों की खबर सामने आई है. ऐसे में केंद्र ने राज्यों से कहा है कि वह अंडे और चिकन के सेवन के संबंध में एडवाइज़री जारी करें ताकि अफवाहों से बचा जा सके.

अब तक देश के दस राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों– दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल , राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. मात्स्यिकी, पशुपालन एवं डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘ 12 जनवरी तक, राजस्थान के झुंझुनु जिले के एचसीएल खेत्री नगर में मृत कौवों में एवियन इंफ्लूएंजा के अतिरिक्त मामलों की पुष्टि हुई. ’’


दिल्ली में चिकन बेचने पर लगी रोक
वहीं बर्ड फ्लू की स्थिति को देखते हुए उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने दुकानों और रेस्तराओं के पोल्ट्री या प्रसंस्कृत ‘चिकन’ बेचने तथा रखने पर बुधवार को तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी. निगम के पशु चिकित्सा सेवा विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि ग्राहकों को अंडा आधारित व्यंजन या पोल्ट्री मांस तथा अन्य संबंधित उत्पाद परोसे जाने पर रेस्तराओं और होटलों के मालिकों को कार्रवाई का सामना करना होगा. इसमें कहा गया है कि आदेश जनहित में जारी किया गया है और इसका पालन किया जाना चाहिए.

दिल्ली में मृ’त मिले कौओं और बत्तखों के नमूनों में सोमवार को बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी. इसके बाद दिल्ली सरकार ने शहर के बाहर से लाए गए प्रसंस्कृत और पैक चिकन की बिक्री पर रोक लगा दी थी.

उत्तर प्रदेश के कानपुर के प्राणिउद्यान में मृत कौवों और हवासीलों (एक प्रकार की बड़ी बत्तख) में तथा हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के जागनोली एवं फतेहपुर गांवों में मृत कौवों में एवियन इंफ्लूएंजा की पुष्टि हुई. बयान में कहा गया कि मध्यप्रदेश के झाबुआ में कुक्कुट नमूने में एवियन इंफ्लूएंजा की मंगलवार को पुष्टि हुई. बयान में कहा गया है, ‘‘पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने राज्यों को जांच नियमों को लेकर परामर्श जारी किया है और उन्हें उपयुक्त जैव सुरक्षित केंद्र सुनिश्चित कर जांच करने के लिए प्रोत्साहित किया है. ’’

महाराष्ट्र और गुजरात में एवियन इंफ्लूएंजा के केद्रों की निगरानी के लिए वहां के लिए एक केंद्रीय दल नियुक्त किया गया है

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.