BIHARBreaking NewsSTATE

Corona Vaccine in Bihar : 16 को 16 सेंटरों पर 1600 लोगों को लगेगी कोरोना की वैक्सीन, सभी तैयारियां पूरी

पटना. 16 जनवरी को पहले दिन पटना जिले के 16 सेंटरों पर कोरोना वैक्सीन लगेगी. इसके बाद अगले दिन 31 सेंटरों पर वैक्सीन लगायी जायेगी.

हर सेंटर पर पांच सदस्यीय टीम रहेगी. हर टीम एक दिन में 100 लोगों को वैक्सीन लगायेगी. इस तरह से पहले दिन 1600 लोगों को वैक्सीन लगेगी.

इसमें जिले के तीन मेडिकल कॉलेज पीएमसीएच, एनएमसीएच, आइजीआइएमएस और तीन निजी अस्पताल रूबन, पारस और बिग अपोलो अस्पताल शामिल हैं, जहां वैक्सीन लगायी जायेगी.

पहले फेज में 38,295 हेल्थ वर्कर को वैक्सीन दी जानी है. इनमें 21,899 सरकारी अस्पताल व 16396 निजी अस्पतालों के वर्कर हैं. ये बातें मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने कहीं.

उन्होंने कहा कि इन सबका पूर्व में ही रजिस्ट्रेशन हो चुका है. तय तिथि पर वैक्सीनेशन हो, इसकी सारी तैयारियां की जा चुकी हैं. वैक्सीन देने के 30 मिनट बाद तक इसे लेने वाले को डॉक्टरों की निगरानी में रखा जा जायेगा.

अगर किसी भी तरह की स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या आती है, तो तुरंत इलाज मिल सके इसका पूरा इंतजाम रहेगा. इसके लिए वैक्सीनेशन स्थल पर पर्याप्त स्टाफ, एंबुलेंस को तैयार रखा जायेगा. जिले के बड़े अस्पतालों को भी अलर्ट कर दिया गया है.

पहले दिन इन्हें नहीं मिलेगी वैक्सीन

डीएम ने बताया कि पहले दिन वैसे स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन नहीं दी जायेगी, जिनकी उम्र 50 वर्ष से ज्यादा है, गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं या गर्भवती महिला हैं.

इसके साथ ही 18 वर्ष से कम उम्र वालों को भी यह अभी नहीं दी जानी है. जो लोग कोरोना पॉजिटिव हैं, उन्हें भी वैक्सीन नहीं दी जायेगी. कोरोना निगेटिव होने के 15 दिन बाद ही वैक्सीन दी जायेगी.

वैक्सीन लगने के 45 दिन बाद ही विकसित होगी इम्युनिटी

डीएम ने बताया कि विशेषज्ञों के मुताबिक वैक्सीन की पहली डोज लगाने के करीब 45 दिन बाद व्यक्ति में इम्युनिटी विकसित होती है. पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जायेगी और इसके दो सप्ताह बाद इम्युनिटी आयेगी.

ऐसे में जो लोग वैक्सीन लें, वे भी कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करें. जब तक इम्युनिटी नहीं विकसित होती है, तब तक आवश्यक रूप से मास्क लगाएं.

हाथों को सैनिटाइज करते रहें, धोते रहें और सोशल डिस्टैंसिंग अपनाएं. उन्होंने कहा कि वैक्सीन ऐच्छिक है. अफवाहों से बचें, क्योंकि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है.

जिले में वैक्सीन की 10,58,834 डोज स्टोर करने की है क्षमता

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी ने बताया कि जिले में वैक्सीन की 10,58,834 डोज स्टोर करने की क्षमता हो चुकी है. 9,53,904 लोगों को इससे वैक्सीन लगायी जा सकती है.

बिहार पहुंची 54,900 वायल वैक्सीन की पहली खेप

16 जनवरी से शुरू होनेवाले कोरोना टीकाकरण को लेकर वैक्सीन की पहली खेप मंगलवार को पटना पहुंची. पहली खेप में वैक्सीन के 54,900 वायल हैं. एक वायल में 10 डोज हैं. इससे करीब 5.49 लाख लोगों काे टीका लगेगा.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने वैक्सीन कोविशिल्ड को पुणे से पटना एयरपोर्ट पर पहुंचने पर रिसीव किया. इसके बाद इसे एनएमसीएच स्थिति स्टेट वैक्सीन स्टोरेज भेज दिया गया. को-विन पोर्टल पर करीब पांच लाख का रजिस्ट्रेशन किया गया है.

679 जगह स्टोरेज

वैक्सीन भंडारण के लिए राज्य स्तर पर एनएमसीएच में राज्य औषधि भंडार, क्षेत्रीय स्तर पर 10 भंडार, सभी जिलों में 38 भंडार और प्रखंड स्तर पर 630 वैक्सीन भंडारण की व्यवस्था की गयी है.

300 स्थानों पर टीका

राज्य में 300 स्थानों पर टीका लगेगा. इनमें सभी नौ सरकारी मेडिकल कॉलेज, पांच निजी मेडिकल कॉलेज, 21 सदर अस्पताल, 17 अनुमंडलीय अस्पताल, 208 पीएचसी व सीएचसी एक नर्सिंग स्कूल (बक्सर), तीन रेफरल अस्पताल व 36 निजी संस्थान शामिल हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.