Breaking NewsDELHI

रॉबर्ट वाड्रा के दफ्तर पहुंची इनकम टैक्स की टीम, बेनामी संपत्ति केस में कर रही पूछताछ

नई दिल्ली/गुरुग्राम. बेनामी संपत्ति के मामले में आयकर विभाग के अधिकारियों ने सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के पति रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) रॉबर्ट वाड्रा का बयान दर्ज किया है. जांच से जुड़े एक आईटी विभाग के सूत्र ने न्यूज एजेंसी एएनआई को इसकी जानकारी दी. सूत्र ने बताया कि बेनामी संपत्तियों के मामले में बयान दर्ज करने के लिए एक आईटी टीम सुखदेव विहार स्थित रॉबर्ट वाड्रा के दफ्तर पहुंची है.

रॉबर्ट वाड्रा पर लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर में 1.9 मिलियन पाउंड की कीमत का मकान खरीदने के लिए मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है. वाड्रा फिलहाल अग्रिम जमानत पर बाहर हैं. उनके खिलाफ आईटी विभाग के अलावा प्रवर्तन विभाग (ईडी) मनी लॉन्ड्रिंग (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत जांच कर रहा है.

इससे पहले ईडी ने वाड्रा पर मनी लॉन्ड्रिंग केस की जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप लगया था. हालांकि, वाड्रा के वकील ने ईडी के दावों को खारिज करते हुए कहा था कि एजेंसी जब कभी उनके मुवक्किल को बुलाती है, वह उसके सामने पेश होते हैं. उन्होंने जांच में पूरा सहयोग किया है.

रॉबर्ट वाड्रा के वकील ने यह भी कहा था कि ईडी ने जो सवाल किए, उनके मुवक्किल ने उनका जवाब दिया. ईडी के लगाए गए आरोपों को स्वीकार नहीं करने का यह अर्थ नहीं है कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.

मूल रूप से वाड्रा परिवार पाकिस्तान के सियालकोट से है, भारत विभाजन के समय राजेंद्र वाड्रा के पिता यानी रॉबर्ट वाड्रा के दादा भारत आकर बस गए. रॉबर्ट वाड्रा के एक भाई और एक बहन थीं. 2001 में उनकी बहन की कार दुर्घट’ना में मौ”त हो चुकी है और 2003 में उनके भाई ने आत्महत्या कर ली थी. 2009 में उनके पिता की भी हार्ट अ’टैक से मौ’त हो गई. अब वाड्रा परिवार में उनकी मां ही उनके साथ हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.