BIHARBreaking NewsMUZAFFARPURSTATE

फोन करने पर SSP ने HAM नेता को सुनाई खूब गा’ली, बोले- तुम्हारी औकात क्या है बे’हूदा, इडियट…

MUZAFFARPUR :  बिहार में इन दिनों आप’राधिक घ’टनाएं काफी तेजी से बढ़ रही हैं. अपरा’धियों ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है. सीएम के निर्देश के बावजूद भी लॉ एंड आर्डर की बि’गड़ी हुई स्थिति सुधर नहीं रही हैं लेकिन पुलिसवालों के नए-नए कारनामे लगातार सामने आ रहे हैं. इस बार मुजफ्फरपुर जिले के एसएसपी आईपीएस अफसर जयंतकांत की एक कॉल रिकार्डिंग सामने आई है, जिसमें वो बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के एक नेता को खूब गा’ली दे रहे हैं.

मामला मुजफ्फरपुर जिले का है, जहां मुजफ्फरपुर जिले के हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के युवा जिला प्रभारी मुकेश कुमार पाठक को वहां के एसएसपी जयंतकांत ने इसलिए खूब गा’ली दी क्योंकि मुकेश ने उन्हें जिले में जाम की स’मस्या को लेकर कॉल किया था. जिले के सीनियर पुलिस अफसर के ऐसे बर्ताव को लेकर हम नेता ने का’र्रवाई की मांग की है. मुकेश पाठक ने पार्टी के आलाधिकारियों को अपने साथ हुई इस बेइज्जती की सूचना दी है.

दरअसल पिछले महीने ही युवा जिला प्रभारी मुकेश कुमार पाठक ने मुजफ्फरपुर एसएसपी जयंतकांत को जिले में जाम की सम’स्या को लेकर एक आवेदन दिया था. इस आवेदन की प्रतिलिप को उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मुजफ्फरपुर के डीएम और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी को भी भेजा था.

इस पत्र में मुकेश ने साफ़ तौर पर लिखा था कि शहर में सड़क जाम की स्थिति पुलिस और ट्रैफिक पुलिस की लापरवाही की वजह से होती है. टावर चौक और जीरो माइल और जीरो माइल से मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल भी जाम से ग्र’सित है. मुकेश ने नो एंट्री में बड़े वाहनों पर प्रतिबंध लगाने, एनएच पर किसी भी गाड़ी को खड़ा करने पर रोक लगाने, अतिक्रमण हटाने और ट्रैफिक पुलिस को एक्टिव करने की बात कही थी.

लेकिन बुधवार को एक बार फिर से जाम में फंसने के कारण मुकेश ने एसएसपी को  फोन लगा दिया और इस बात से नाराज एसएसपी ने उन्हें फोन पर ही खूब गाली दी. एसएसपी जयंतकांत के ऊपर अपशब्दों का प्रयोग करने का आ’रोप लगाते हुए  मुकेश ने एक कॉल रिकार्डिंग मीडिया को दी है. जिसमें गालीगलौज किया अजा रहा है. इस मामले में मुजफ्फरपुर एसएसपी से जब बातचीत  की गई तो उन्होंने कहा क़ जो मैंने कहा है, वह रिकार्डिंग में है. सुन लीजिये.

Input: FirstBihar

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.