Breaking News

परिवहन कार्यालय :अधिकारियों की नहीं उसके परिवारवालों की चलती है

शेखपुरा परिवहन कार्यालय में अधिकारियों की नहीं बल्कि उसके परिवारवालों की चलती है। परिवार वाले ही सरकार के नियमों को संचालित करते है एवं अपने तरीके से कार्यालय को चलाते हैं। ताज़ा मामला परिवहन कार्यालय के एमवीआई कार्यालय का है। जहां एमवीआई अर्चना कुमारी के भाई नीरज कुमार एवं देवर प्रवीण कुमार कार्यालय कार्य में हस्तक्षेप कर सरेआम नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। देवर एवं भाई गाड़ियों की धर पकड़ के अलावा परिवहन कार्यालय में दलाली भी करते हैं। जानकारी मिलने के बावजूद भी एमवीआई मौन बनी है एवं दोनों संबंधियों के मदद से कार्यालय को चला रहे है। बताते चले कि शेखपुरा का परिवहन कार्यालय पूर्व में भी विवादित रहा है।null

यहां पूर्व परिवहन पदाधिकारी शम्भुनाथ राम, कामिल अख्तर आदि विवादों में रहे है और उनके ऊपर परिवहन दफ्तर में बिचौलियों के माध्यम से कार्य कराने एवं नाजायज राशि वसूलने का आरोप लगे है। उक्त अधिकारियों पर जांच के बाद कार्रवाई भी हुई है। अब ताज़ा एमवीआई अर्चना कुमारी का है, जिस पर अपने सगे संबंधियों के द्वारा कार्यालय में दलाली करने एवं सरकारी दस्तावेज से छेड़छाड़ करने का आरोप लगा है। यह मामला अब उच्च अधिकारियों तक पहुँचने की बात बताई जा रही है तथा कयास लगाए जा रहे है कि दलाली के इस मामले की जांच कराई जाएगी। इस संबंध में एमवीआई अर्चना कुमारी ने बताया कि तस्वीर में दिख रहा शख्स उनका रिश्तेदार नहीं है तथा उन्होंने बताया कि कार्यालय के बड़ा बाबू श्रवण कुमार के द्वारा बदनाम किया जा रहा है। मामला जो भी दूध का दूध पानी का पानी तभी हो पाएगा जब इसकी जांच कराई जाएगी।

गाड़ियों की जांच व धरपकड़ में एमवीआई के साथ दोनों रहते

जिला परिवहन कार्यालय में दस्तावेज देखते हुए एमवीआई के देवर। बताया जा रहा है कि यह रोज की बात है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.