Breaking News

खेती-बारी:8 एकड़ तक का डीजल अनुदान ले सकते हैं किसान

मानसून की बेरुखी से परेशान किसानों को राहत देने के लिए डीजल अनुदान देने की घोषणा की गयी है। 29 जुलाई से ऑनलाइन आवेदन लिये जा रहे हैं। पहले दिन साइट में तकनीकी खामियां आयी तो विभाग का डीबीटी पोर्टल नहीं खुला। दूसरे दिन से आवेदन हो रहे हैं। अब तक जिले को 1375 आवेदन आनलाइन किसानों का मिल गया है। इस आवेदनों का सत्यापन ऑनलाइन करना है। इसके लिए डीबीटी कृषक सत्यापन एप बनाया गया है। सत्यापन दो स्तर पर होनी है। एग्रीकल्चर को-ऑर्डिनेटरों को जवाबदेही दी गयी है कि वे किसानों के खेत पर जाकर यह पता करेंगे कि सिंचाई डीजल इंजन से ही गयी है। इतना ही नहीं डीजल इंजन की तस्वीर खींचकर एप पर लोड भी करना है। आवेदन को स्वीकृति देकर डीएओ के पास भेजेंगे। अभी को-ऑर्डिनेटरों द्वारा आवेदन मिलने के बाद सत्यापन शुरू कर दिया गया है। एक से दो दिनों में जिला स्तर से भी सत्यापन शुरू होने का अनुमान है। जिसके बाद किसानों के खाते में राशि जाने लगेगा। अबतक जिले के सभी 19 प्रखंडों के 1375 किसानों ने डीजल अनुदान पाने के लिए आवेदन दिया है। सबसे आगे दरौंदा के किसान हैं। यहां के 180 धरती पुत्रों आवेदन दिया है। इसके साथ ही आंदर में 60, बड़हरिया में 41, बसंतपुर में 12, भगवानपुरहाट में 135, दरौली में 58, गोरेयाकोठी में 42, गुठनी में 77, हसनपुरा में 59, हुसैनगंज में 29, लकड़ीनवीगंज में 34, महाराजगंज में 76, मैरवा में 49, नौतन में 14 , पचरूखी में 71, रघुनाथपुर में 132, सिसवन में 158, सीवान सदर में 21 और जीरादेई में 127 आवेदन किसानों ने किया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.