Breaking News

गया में किसान का म’र्डर:बधार में मिला अधज’ला श’व, जमीन विवाद में उतारा मौ’त के घाट

गया के वजीरगंज प्रखंड स्थित पतेड़ पंचायत के मंगरावां बधार में 65 वर्षीय किसान रामेश्वर यादव का अधजला शव पुलिस ने बरामद किया है। शव बधार में लगे पंप पर पड़ा हुआ था। हत्या का कारण भूमि विवाद बताया जा रहा है। परिजनों के अनुसार, रामेश्वर यादव बुधवार की शाम पहर खेत में सिंचाई के लिए बधार में लगे पंप पर गए थे। और देर रात तक तेज वर्षा के कारण वे वहीं रुके रहे।

घरवाले भी यह सोच कर निश्चिंत थे कि पंप पर रहने के लिये छप्पर और सोने की व्यवस्था भी है। लेकिन जब वह गुरुवार को काफी समय बीत जाने के बाद भी रामेश्वर घर नहीं लौटे तो मृतक के घरवालों की चिंता सताने लगी। गांव व आसपास में छानबीन की पर कहीं कुछ भी पता नहीं चल सका।

दोपहर बाद रामेश्वर के घर की पत्नी थक हार कर बधार में गले पंप पर पहुंची तो वह वहां का सीन देख कर वह बदहवाश तरीके से चीखने – चिल्लाने व रोने लगी। उसके रोने व चिल्लाने की आवाज जब गांव के लोगों ने सुनी तो वे उस ओर दौड़ पड़े। मौके पर पहुंचे गांव के लोगों ने देखा कि रामेश्वर का अधजला शव पड़ा हुआ है। यह देख गांववालों ने पुलिस को घटना की सूचना दी।

थानाध्यक्ष रामएकबाल प्रसाद यादव ने बताया कि शव का पोस्टमार्टमके लिए भेज दिया गया है। मृतक के पुत्र से मिले बयान पर गांव के ही दो लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है। अपराधियों के पकड़े जाने पर हीं उनके नाम का खुलासा किया जायगा। उन्होंने बताया कि छापेमारी चल रही है।

इधर, गांव के लोग रामेश्वर यादव की हत्या अपराधियों ने कैसे की होगी और उसके कारणों पर चर्चा करने में जुटे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि अपराधियों ने पहले रस्सी से रामेशवर का गला दबाकर मारा होगा और फिर लोगों व पुलिस को भटकाने के लिए उसकी धोती व कुर्ता में आग लगा दी होगी। जिससे उसके शरीर का ऊपरी भाग जल गया होगा।वहीं मुखिया राजीव रंजन और सरपंच महेश कुमार सुमन ने बताया कि मृतक के पुत्र संजीव कुमार व अखिलेश कुमार के अनुसार एक जमीन के टुकड़े के लिये हत्या कर दी गई है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.