Breaking News

6 बार पीटी की परीक्षा भी नहीं पास हो सके:सातवें प्रयास में बन गए अफसर

रोहतास जिले के जिला मुख्यालय के गौरक्षणी मुहल्ला निवासी अंकित कुमार ने 66वीं बीपीएससी की परीक्षा में 350वां रैंक लाकर बड़ी सफलता प्राप्त की है। अंकित कुमार सासाराम शहर के गौरक्षणी निवासी द्वारिका प्रसाद श्रीवास्तव व चंचला देवी के पुत्र हैं। इनकी प्राथमिक शिक्षा बुधन चौधरी हाई स्कूल, नोखा से हुई है। इसके बाद ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई शेरशाह सूरी कॉलेज, सासाराम से पूरा किया।

2016 से सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू की है। 2018 में यह पहली बार परीक्षा में शामिल हुए। यूपीएससी तथा बीपीएससी की परीक्षा देनी शुरू की, परंतु यूपीएससी के तीन पीटी और बीपीएससी के तीन पीटी परीक्षाओं में इन्हें सफलता नहीं मिली। लगातार 6 पीटी परीक्षाओं में असफलता से ये निराश नहीं हुए। तैयारी में जुटे रहे।

अंततः 66वीं बीपीएससी की पीटी में इन्हें पहली बार सफलता मिली, इसके बाद उन्होनें मुख्य परीक्षा पास कि और इंटरव्यू के बाद अंतिम रूप से सफल होने में कामयाब रहे। बताया कि मुख्य परीक्षा में उनका ऑपश्नल पेपर इतिहास था।

पिता चलाते हैं किराना दुकान

अंकित बताते हैं कि उनके पिता मुहल्ले में एक छोटा सा किराना की दुकान चलाते हैं। बताया कि वो पांच भाई बहनों में चौथे नंबर पर हैं। उनसे तीन बड़ी बहने हैं जो प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। जबकि छोटा भाई स्नातक में हैं। वे सफलता का श्रेय माता-पिता और भाई बहनों को देते हैं, जिन्होंने प्रारंभिक असफलता के बावजूद उनका हौसला बनाए रखा। उन्होंने कहा कि सिविल परीक्षा धैर्य की परीक्षा है इसलिए परीक्षार्थी को आरंभिक असलता के बावजूद लगतार परीश्रम करना चाहिए। सही दिशा में परीश्रम जरूर सफलता दिलाता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.