Breaking News

रफ्तार का कहर:ड्राइवर की जगह खलासी चला रहा था हाइवा, कई लोगों को रौंदा, 4 की गई जान

पातेपुर थाना क्षेत्र के महुआ-ताजपुर एसएच 49 पर बुधवार की दोपहर बहुआरा चौक पर अनियंत्रित हाइवा ट्रक ने एक लाइन से पांच-छह दुकानों, सामने पड़ी कई वाहनों को ध्वस्त करते हुए चाय-नाश्ते की होटल में जा घुसा। चपेट के आने से तीन लोगों की मौत मौके पर ही हो गई, चौथे जख्मी की सदर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। वही दस से पंद्रह लोग गंभीर व मामूली रूप रूप से जख्मी हुए हैं। घायलों को स्थानीय लोगो द्वारा पातेपुर पीएचसी पहुंचाया गया जहां से सात लोगो की गंभीर स्थिति को देखते हुए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया गया। वहां इलाज के दौरान एक की मौत हो गई। घटना के बाद मौके पर जुटे हजारों की संख्या में लोगो ने सड़क जाम कर जमकर बबाल काटा। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए मौके पर जिले के लगभग एक दर्जन थाने व पुलिस लाइन से बड़ी संख्या में पुलिस बजरवाहन को मौके पर बुलाया गया।
ई-रिक्शा चालक समेत 4 की मौत
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सड़क से सवारी लेकर जा रहे ई रिक्शा के चालक बहुआरा के पोखरा गांव निवासी मो क्यूम के पुत्र मो मुबारक, रिक्शा पर सवार ताजपुर थाना क्षेत्र के लस्कारा गांव निवासी मनीष चौधरी की पत्नी जगमाया देवी एवं चाय की दुकान पर खड़े बहुआरा गांव निवासी देवेंद्र सहनी का 17 वर्षीय पुत्र मुकेश कुमार की मौत मौके पर ही हो गई। वही बहुआरा गांव के ही पंकज कुमार की मौत हाजीपुर सदर अस्पताल में ईलाज के दौरान हो गई। ई रिक्शा पर सवार पांच की संख्या में अन्य लोग तथा दोनो दुकान पर बैठे जिप्सी देवी, प्रियम कुमार, विकाश कुमार, प्रमिला देवी, लक्ष्मी चौधरी, मुनाकी पासवान, मन्नू सहनी एवं गांगो पासवान समेत दस से पंद्रह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर जुटे लोगो ने घटना की सूचना पातेपुर पीएचसी को दी। सूचना मिलते ही पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अवनी कुमार चिकित्सको की टीम एवं एम्बुलेंस के साथ मौके पर पहुंच कर आनन फानन में घायलों को पीएचसी लेकर गए। वहां से सात घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया।https://4aa591db53e42c1acbd006fb7efcdd13.safeframe.googlesyndication.com/safeframe/1-0-38/html/container.html

पांच घंटे बाद जाम समाप्त हुआ
भयंकर जनआक्रोश को देखते हुए पातेपुर थानाध्यक्ष रामशंकर कुमार ने एसपी को सूचना देकर पर्याप्त संख्या में पुलिसबल की मांग की। एसपी के निर्देश पर बलिगांव, तीसीऔता, जंदाहा, महुआ थाना के अलावा हाजीपुर पुलिस लाइन से रैपिड एक्शन फोर्स व बज्रवाहन को भेजा गया। स्थानीय विधायक लखेन्द्र पासवान, व्यापार मंडल अध्यक्ष गणेश राय, पूर्व जिला पार्षद सदस्य मनीष राय,समाजसेवी कुन्तलाल साह, मुखिया मो सज्जाद व स्थानीय जनप्रतिनिधियों जे सहयोग से लोगो को समझा-बुझा शांत कर जाम खत्म कराया गया। मृतक के आश्रितों व घायलों को आपदा विभाग से देय आपदा अनुदान दिए जाने का आश्वासन दिया गया है।

अंचल गार्ड नाहक हुए जनाक्रोश का शिकार
घटना के बाद आक्रोशित हजारों की संख्या में लोगो ने सड़क जाम कर दिया था। भीड़ के चंगुल से निकालकर हादसे के लिए जिम्मेवार ट्रक के खलासी को थाना ले जाने से लोग आक्रोशित हो उठे थे। डंफर जा ड्राइवर साइड गेट से कूदकर भाग निकलने में कामयाब हो गया था। सड़क जाम की सूचना मिलने पर जनता दरबार के बाद पातेपुर लौट रहे पदाधिकारी के साथ आ रहे अंचल गार्ड पर लोगो ने हमला बोल दिया। लोगों का आक्रोश देखते हुए पातेपुर पुलिस घटनास्थल छिड़कर नौ दो ग्यारह हो चुकी थी। आकृष्ट भीड़ ने खाकी वर्दी देखकर अंचल गार्ड रामलाल ठाकुर पर ही गुस्सा उत्तर दिया। भीड़ की पिटाई से वे गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल अंचल गार्ड को भी पीएचसी में भर्ती कराया गया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.