Breaking News

मुजफ्फरपुर : निर्माण एजेंसियां प्रशासन को लगातार दिखा रहीं ठेंगा,अधूरे निर्माण काे लेकर स्मार्ट सिटी की एजेंसियों काे नाेटिस

डीएम के अल्टीमेटम के बावजूद स्मार्ट सिटी की निर्माण एजेंसियाें ने अब तक अधूरे नाले का काम पूरा नहीं किया है। जबकि, मानसून सक्रिय हो चुका है। निर्माण एजेंसियां प्रशासन को लगातार ठेंगा दिखा रही हैं। एेसे में स्मार्ट सिटी के सीजीएम राजेश सिन्हा ने बताया कि अधूरे निर्माण काे शीघ्र पूरा करने के लिए एजेंसियाें काे नाेटिस दिया गया है। साथ ही काम पूरा हाेने तक भुगतान पर भी राेक लगा दी गई है।n

दरअसल, टाउन थाना से छोटी सरैयागंज के बीच (तिलक मैदान रोड में) नाला बनाने के लिए 9 स्थानों पर गड्ढा करके छोड़ दिया है। जिस रफ्तार से तिलक मैदान रोड में नाला बनाने का काम चल रहा है‌, उसमें अगले एक साल में भी काम पूरा होने की संभावना नहीं दिख रही है। जबकि, जनवरी 2021 में ही सड़क व नाला निर्माण कार्य पूरा कर लेना था। छोटी सरैयागंज में तीन माह पहले नाला बनाने के लिए गड्ढा किया गया। 90% काम पूरा हुआ। रत्ना कैफे के पास जानलेवा गड्ढा उसी तरह से है। बीती रात में महज 10 फीट नाला ढाला गया।

छोटी सरैयागंज में जो नाले का निर्माण हो रहा है, वह भी बेतरतीब ढंग से चल रहा है। कहीं स्लैब ऊंचा तो कहीं नीचा कर दिया गया है। छोटी सरैयागंज से टाउन थाना तक जो गड्ढे किए गए हैं, इसमें पांच जगह बैरिकेडिंग कर दी गई है। बाकी जगह नुकीले छड़ निकले हुए हैं, जो भारी बारिश होने के बाद जानलेवा साबित हो सकते हैं।

निगम ने मस्जिद चौक के पास सड़क बनाने पर लगाई रोक, कल्वर्ट बनेगा

29 करोड़ की लागत से नव युवक समिति ट्रस्ट से जवाहरलाल रोड, कल्याणी, हाथी चौक होते हुए लेप्रोसी मिशन तक सड़क व नाले का निर्माण चल रहा है। मस्जिद चौक के आगे निर्माण एजेंसी द्वारा नगर निगम के पहले के नाले का बहाव रोक दिया गया। बगैर कल्वर्ट बनाए सड़क की ढलाई गुरुवार को होनी थी। अंचल इंस्पेक्टर की शिकायत पर नगर आयुक्त ने सड़क की ढलाई पर रोक लगा दी।

अब वहां कल्वर्ट बनाने के बाद ही आगे काम होगा। निगम की शिकायत है कि हाथी चौक से मस्जिद चौक तक जो नाला बनाया गया है, उसकी बगैर सफाई किए स्लैब ढाल दिया गया है। पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता अंजनी कुमार ने कहा कि कल्वर्ट बनाने का आदेश निमार्ण एजेंसी को दिया गया है।

एसडीओ पूर्वी ने कहा- निर्माण एजेंसी को जल्द बुलाकर समीक्षा करेंगे, काम की सूची मांगी गई

डीएम ने 27 मई तक शहर में जो भी गड्ढे किए गए हैं, उसको पूरा करने का अल्टीमेटम दिया था। कार्य पूरा नहीं करने पर डीएम ने एफआईआर करने की भी चेतावनी थी। बाद में एसडीओ ने समीक्षा करके 10 जून तक समय दिया। इसके बावजूद छोटी सरैयागंज और तिलक मैदान रोड में काम पूरा नहीं हो सका है। मोतीझील में निर्माण एजेंसी ने पहले से जो गड्ढा किया है, वहां काम पूरा करके आगे नाला निर्माण शुरू किया है।

कटही पुल के पास भी नाला निर्माण जारी है। सिकंदरपुर में मेडिसिन दुकान के सामने चार माह पहले जो गड्ढा किया गया था, वह अब भी उसी तरह से पड़ा हुआ है। मेडिसिन दुकानदार डॉक्टर विकास शर्मा की शिकायत है कि 15 दिन बाद जयपुर से गुरुवार की सुबह लौटे तो मेरी दुकान में नाले का पानी घुसा था। एसडीओ पूर्वी ज्ञान प्रकाश ने कहा कि निर्माण एजेंसी से अधूरे काम की सूची मांगी गई है। साथ ही उन्हें शीघ्र काम पूरा करने की हिदायत दी गई है।

एजेंसी – ट्रैफिक और जलजमाव से नहीं हो रहा काम

तिलक मैदान रोड में खोखर इंफ्रास्ट्रक्चर को निर्माण की जवाबदेही दी गई है। पहले एजेंसी का बहाना था कि पोल शिफ्टिंग की वजह से काम नहीं हो रहा है। अब नया बहाना है कि ट्रैफिक की वजह से दिन में काम नहीं हो रहा है। रात में काम किया जा रहा है। नाला में पानी है। पानी निकालने में समय लग रहा है। एक सप्ताह के अंदर काम पूरा कर लिया जाएगा।

अघोरिया बाजार में नाला बंद करने से कई गली में घुसा पानी

जंक्शन इंप्रूवमेंट को लेकर निर्माण एजेंसी ने अघोरिया बाजार चौक के पास 10 दिन पहले नाले को बंद कर दिया। इससे कई गलियों में पानी उफनाने लगा है। वार्ड नंबर-29 वार्ड- 30 के लोगों की परेशानी बढ़ गई है। गुरुवार को वार्ड-30 के पूर्व पार्षद पति ने एक तरफ का नाला खोलवा दिया। इससे वार्ड-29 के रजद रंजन व एलएनटी गली में दो दर्जन लोगों के कैंपस तक में पानी घुस गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.