Breaking News

#MUZAFFARPUR में 25 दिसंबर को होगा फ्रंट का महाकुंभ, शामिल होंगे 50 हजार से अधिक प्रतिनिधि

MUZAFFARPUR : समाज को सशक्त व संघर्षशील बनाने के संकल्प के साथ भूमिहार ब्राह्मण समाजिक फ्रंट का एक दिवसीय प्रतिनिधि सम्मेलन शुक्रवार को संपन्न हुआ। स्थानीय भामाशाह द्वार चैनपुर स्थित बीएन प्लाजा के सभागार में संपन्न हुए प्रतिनिधि सम्मेलन की अध्यक्षता फ्रंट के जिला अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह तथा संचालन महासचिव विनय ठाकुर ने किया ।

सम्मेलन के प्रारंभ में फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व मंत्री सुरेश शर्मा एवं कार्यकारी अध्यक्ष पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित एवं बिहार केशरी श्री कृष्ण सिंह के तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर किया। इस मौके पर प्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने कहा कि यह फ्रंट बीते 2 वर्षो के अपने कार्यकाल मे आप साथियों के संघर्ष के बल पर राज्य के 38 जिलों के लोगों के जुबान पर आ गया है। यह हम सबों के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य समाज को संगठित व संघर्षशील बनाकर अपने गौरवशाली अतीत को पुनर्स्थापित करना है। उन्होंने उपस्थित प्रतिनिधियों से समाज में नशा पान करने वाले युवको को नशा त्यागने के लिए अभियान चलाकर उत्प्रेरित करने का अपील किया। उन्होंने कहा कि हमारा समाज कतिपय कारणों से सामाजिक व राजनैतिक रूप से हाशिए पर चला गया है। देश के सभी राजनीतिक दल हमें पिछलगू व मजबूर समझने लगे है। हमें संगठित होकर वैसे लोगों को अपनी ताकत का एहसास कराना है।

इस अवसर पर सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने कहा कि आज बेरोजगारी हमारे समाज के युवा वर्ग के लिए बड़ी चुनौती बन गई है। हमारा समाज आर्थिक रूप से लगातार पिछड़ रहा है। ऐसे में हमें नौकरी के बजाय अब स्वरोजगार की ओर ध्यान देना पड़ेगा। श्री शर्मा ने कहा की आदिकाल से हमारा समाज जमीन से जुड़ा रहा है। यदि आज हम कृषि पर आधारित उद्योग लगाते हैं तो न केवल हमारी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, वल्कि हमारे जमीन का भी बेहतर उपयोग होगा।

उन्होंने उपस्थित प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज हमारा समाज आपसी कटुता के कारण कमजोर हुआ है। इसे हम सबों को समझना पड़ेगा । उन्होंने उपस्थित लोगों से कहा कि यदि आपको अपने पूर्वजों के विरासत को पुनर्स्थापित करना है तो आपसी कटुता भुलाकर एक होना पड़ेगा । तभी हम – आप अपना लक्ष्य प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि यह फ्रंट अपने मूल सिद्धांत “ना काहू से दोस्ती ना काहू से बैर” “जो हमें सम्मान देगा, हम उसका साथ देंगे” के सिद्धांत पर आगे भी संघर्ष करेगा।

प्रतिनिधि सम्मेलन को संबोधित करते हुए फ्रंट के कोषाध्यक्ष पी एन सिंह आजाद ने कहा कि जब तक हमारे समाज का सत्ता व शासन में समुचित भागीदारी नहीं होगी तब तक हमारा सर्वांगीण विकास नहीं हो सकता है। इसलिए सत्ता और शासन में भागीदारी के लिए सभी को एकजुट होना पड़ेगा। फ्रंट के प्रदेश महासचिव धर्मबीर शुक्ला ने कहा कि हमारा समाज हर स्तर पर सबल होने के बावजूद आज चौतरफा उपेक्षा का शिकार हो रहा है। जबकि आजादी की लड़ाई से लेकर देश- प्रदेश के नवनिर्माण में हमारे समाज का उल्लेखनीय भूमिका रहा है। जिसका इतिहास गवाह है। उन्होंने नौजवानों से कहा कि आप एकजुट होकर संघर्ष करें हमें रोजी रोजगार भी मिलेगा और सम्मान भी।

इस इस अवसर पर सम्मेलन में कई महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए गए। जिसमें आगामी 25 दिसंबर 22 को फ्रंट का मुजफ्फरपुर में महाकुंभ आयोजित करने, महाकुंभ में 50 हजार से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित कराने, समाज के गरीब मेधावी छात्रों के लिए शीघ्र निशुल्क कोचिंग का व्यवस्था करने, समाज के अंतिम व्यक्ति को भी फ्रंट से जोड़ने, नशा की जद में फंसे युवाओं को नशा मुक्ति के लिए प्रेरित करने, युद्ध स्तर पर सदस्यता अभियान चलाने तथा़ एक जुलाई से जिला व प्रखंड स्तर पर समाज का सम्मेलन आयोजित करना प्रमुख है।

इस मौके पर समाज व फ्रंट के लिए उत्कृष्ट कार्य करने वाले एक दर्जन से अधिक लोगों को फ्रंट की ओर से सम्मानित किया गया। जिसमें पत्रकार, सामाजिक व राजनैतिक कार्यकर्ता एवं किसान प्रमुख थे।

प्रतिनिधि सम्मेलन को फ्रंट के प्रमुख नेता क्रमश: प्रदेश सचिव भूषण सिंह, अवधेश सिंह, संजीत ठाकुर, रणधीर कुमार सिंह, डॉ आनंद, संजय ठाकुर, प्रत्यूष प्रांजल, बबलू सिंह, मुरारी शरण सिंह उर्फ श्याम जी, शशि रंजन सिंह उर्फ डब्ल्यू सिंह, पप्पू सिंह, के के प्रशांत, चुलबुल ठाकुर, कादंबिनी ठाकुर, शांतनु सत्यम तिवारी, अंकेश ओझा, शंभू जी, निखिल कुमार, संध्या सिंह, पप्पू सिंह, सुनील शर्मा, आशुतोष कुमार, विजय कुमार मिश्रा, कन्हैया चौधरी ,राजकुमार सिंह, अमरेश सिंह, मुरारी कुमार सिंह, दीपक कुमार सिंह, राकेश कुमार सिंह, सुनील सिंह, राहुल कुमार आदि ने संबोधित किया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.