Breaking News

पुलिस को चुनौती: हाईवे पर बाइकर्स गैंग का आ’तंक, अहियापुर में सबसे ज्यादा

हाईवे पर बाइकर्स गैंग का आतंक बढ़ गया है। हाईवे पर महिलाओं के साथ स्नैचिंग की घटना के बाद लोगों में भय का माहौल बना हुआ है। पुलिस इन वारदातों से निपटने में विफल साबित हो रही है। सीसीटीवी कैमरे भी सही तरीके से इस्तेमाल में नहीं लाए जा रहे हैं। मोबाइल, पर्स या चेन स्नैचिंग की कई वारदात हो गई, लेकिन कोई भी घटना सीसीटीवी में कैद नहीं हुई। ज्यादातर चेक प्वाइंट पर सीसीटीवी कैमरे ही नहीं लगे हैं।

छिनतई की सबसे ज्यादा घटना अहियापुर थाना क्षेत्र में हो रही है। पिछले दो दिनों में हाईवे पर बाइकर्स गैंग ने दो महिलाओं को शिकार बनाया। इसमें एक महिला की मौत हो गई। चार दिन पहले आधी रात में दो लोगों के साथ सिकंदरपुर इलाके में मोबाइल लूट की घटना हो चुकी है। लेकिन, पुलिस स्‍मैकिया गिरोह मानकर सुस्त पड़ी हुई है।

दूसरी ओर, पुलिस का दावा है कि घटना के बाद हाईवे पर अश्व मोबाइल की सक्रियता बढ़ाई गई है। उधर, अहियापुर इलाके में हाईवे पर छिनतई की घटनाओं में बढ़ोतरी को लेकर शुक्रवार की देर रात टाउन डीएसपी राम नरेश पासवान ने अहियापुर थाना और हाईवे पर चेकिंग का जायजा लिया। झपहां ओपी के पास बैरियर लगाने का निर्देश दिया गया है, ताकि बाइकर्स गैंग की गतिविधि पर नजर रखी जा सके। 12 मई की शाम अहियापुर थाना के अखाड़ाघाट रोड में अपराधियों ने स्कूटी सवार महिला प्रोफेसर पिंकी का पर्स झपट लिया।

पिंकी चलती स्कूटी से रोड पर गिर गईं। स्कूटी चला रहे प्रोफेसर के भाई मनोज कुमार भी गिरकर घायल हो गए। जबकि, अहियापुर थाना के झपहां ओपी के पास छिनतई के दौरान सड़क पर गिरकर महिला की मौत हो गई। मृतिका तरियानी छपरा थाना के सौली गांव के होमगार्ड जवान मनोज कुमार की पत्नी थी।

वह अहियापुर थाना के शेखपुर ढाब में किराए के मकान में रहती थी। 26 अप्रैल को अहियापुर थाना के चंदन बखरी गांव के पास दरभंगा फोरलेन किनारे एक युवक की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। अब तक उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

हाईवे पेट्रोलिंग का टाउन डीएसपी ने लिया जायजा, झपहां ओपी के पास बैरियर लगेगा

20 मार्च – शहबाजपुर की गीता देवी और उनकी बेटी बिंदु भारती शहर में खरीदारी के लिए निकली थी। घर लौटने के दौरान बाइकर्स गैंग ने बिंदु का पर्स झपट लिया था।
7 फरवरी – सीआरपीएफ कैंप, मोहम्मदपुर चौक की सीमा कुमारी से एसकेएमसीएच फ्लाईओवर के पास मोबाइल और पर्स झपट्टा मारने की घटना हुई थी।
13 फरवरी – अहियापुर थाना के बड़ा जगन्नाथ चौक के पास ऑटो से बोचहां जा रहे एक युवक का मोबाइल बाइक सवार दो बदमाशों ने झपट्टा मार लिया था।
16 फरवरी – अहियापुर थाना से 200 मीटर की दूरी पर देर रात बाइकर्स गैंग ने राजकुमार का मोबाइल छीन लिया था।
25 फरवरी – सदर थाना क्षेत्र के दिघरा में पेट्रोल पंप के मैनेजर से 25 लाख लूट की घटना में गैंग डिटेक्ट होने के बावजूद अब तक कैश बरामदगी नहीं हो सकी है।
4 जनवरी – सरैया थाने के बसैठा बाजार के पास पीएनबी में डाका डाल कर 6.24 लाख रुपए लूटे।
12 जनवरी – अखाड़ाघाट-जीरोमाइल मार्ग में सूरज मार्केट के निकट वरिष्ठ पत्रकार के साथ बाइक सवार तीन बदमाशों ने पिस्टल व चाकू का भय दिखाकर लूटपाट की।
14 फरवरी – मधुबनी के दीपक झा को नशा खिलाकर बैरिया में छिनतई। सामान छीनने के बाद सड़क किनारे छोड़ गए।

सरैयागंज सेंट्रल बैंक में रुपए जमा करने गए दवा कारोबारी के स्टाफ से ढाई लाख छीना, अपराधी को लोगों ने खदेड़कर पकड़ा

सरैयागंज टावर से चंद कदम की दूरी पर शुक्रवार की दोपहर सेंट्रल बैंक परिसर में दवा कारोबारी के स्टाफ राजू से अपराधी ने ढाई लाख रुपए छीन लिए। दवा कारोबारी के स्टाफ के शोर मचाने पर बैंक से भाग रहे अपराधी पितौझिया के अमित को लोगों ने खदेड़ कर दबोच लिया। अपराधी के पास से रुपए बरामद हो गए। सरैयागंज के श्रीराम ड्रग्स कारोबारी गुंजन अग्रवाल ने बताया कि राजू सिंह सेंट्रल बैंक में कैश जमा करने गए थे।

फॉर्म भरने के दौरान वहीं खड़ा अपराधी बैग से रुपए निकाल कर भागने लगा। राजू ने शोर मचाया और उसके पीछे दौड़े। टावर से थोड़ी दूर आगे जी चौधरी गली में लोगों ने अपराधी को पकड़ लिया। बैंक के सुरक्षा गार्ड सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि घटना से कुछ ही देर पहले संतरी गार्ड से हम उतरे थे। वर्दी खोलकर आराम कर रहे थे।

इसी दौरान बैंक में शोर मचा। एक लड़का भाग रहा था। मैं भी उसके पीछे भागा। मोची संतोष व मनीष नामक लड़के ने हिम्मत दिखाते हुए भाग रहे अपराधी को पकड़ लिया। थाना अध्यक्ष अनिल कुमार सिंह ने कहा कि अपराधी से पूछताछ चल रही है।

दामूचक में सर्किट हाउस के स्टाफ की डिक्की तोड़कर 50 हजार उड़ाए

शहर के दामूचक में एक क्लीनिक के बाहर शुक्रवार को सर्किट हाउस के परिचारी मदन चन्द्र राम की बाइक की डिक्की तोड़कर अपराधियों ने 50 हजार रुपए उड़ा लिए। मदन चन्द्र राम वैशाली जिले के चेहराकला प्रखंड स्थित मंसूरपुर हलैया गांव के रहने वाले हैं। मदन ने पुलिस को बताया कि सूतापट्टी स्थित बैंक से रुपए निकाले थे। गांव में शौचालय का निर्माण कराना था। दामूचक में एक डॉक्टर की क्लिनिक पर पहुंचे। वहां से नाती को दिखा कर बाहर निकले तो बाइक की डिक्की टूटी हुई थी। थानेदार सत्येंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि छानबीन की जा रही है।

‘देर रात में हाईवे पेट्रोलिंग का जायजा लिया गया है। हाईवे पर शाम से रात 9 बजे तक चेकिंग की व्यवस्था की गई है। हाल की जो घटनाएं हैं, उसकी जांच की जा रही है।’
-राम नरेश पासवान, टाउन डीएसपी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.