Breaking News

बिहार : लड़की बनकर लूट को देता था अंजाम, तीन लोगों को कोर्ट की ओर से सजा

भभुआ व्यवहार न्यायालय के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश नवम प्रभात कुमार श्रीवास्तव की अदालत शुक्रवार को कुदरा थाना कांड संख्या 333/ 2020 डकैती के मामले में तीन अभियुक्तों को 8 साल की सजा सुनाया है। दरअसल राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 2 (GT रोड) पर लड़की बनकर डकैतों का एक गिरोह ट्रकों से लूट की घटना को अंजाम देते थे। इस बात की जानकारी जैसे ही तत्कालीन कुदरा थानाध्यक्ष शक्ति कुमार सिंह को मिली तो उन्होंने इस गिरोह को पकड़ने के लिए एक प्लान तैयार किया।

प्लान के मुताबिक तत्कालीन थानाध्यक्ष शक्ति कुमार सिंह ने यूपी के तरफ से आने वाली ट्रक को से संपर्क साधा। इसके बाद ट्रक में थाने के सिपाहियों को बिठाया और ट्रक के पीछे खुद सादे लिबास में पुलिस बल के साथ गस्ती करने लगे। इसी बीच डकैतों के गिरोह में शामिल तीन लोग बाबू बंसीधर पेट्रोल पंप जीटी रोड के समीप मौजूद थे। घटना को अंजाम देने से पहले गिरोह का एक सदस्य लड़की के लिबास में लड़की बनकर ट्रक को रुकवाया। जैसे ही ट्रक रुकी गिरोह के दो सदस्य भी बारी-बारी से मौके पर पहुंच गए।

इसी बीच प्लान के मुताबिक पुलिस भी वहां पहुंच गई। और तीनों को गिरफ्तार कर ली। इस घटना का मुकदमा दर्ज होने के बाद महज 18 माह में ही अदालत ने जीटी रोड पर लूट की घटना को अंजाम देने वाले गिरोह के तीन सदस्यों प्रेम पांडे लोदीपुर थाना चैनपुर जिला कैमूर रामचंद्र राम कुदरा और कविंद्र कोहार भभुआ वार्ड नंबर 1 को शुक्रवार को एडीजे नवम प्रभात कुमार श्रीवास्तव ने 8 साल की सजा सुनाया है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.