Breaking News

बिहार: SBI का लॉकर खुला तो सुपौल के DFO साहब की खुल गई पोल

बिहार में भ्रष्‍ट अधिकारियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी है. इसी कड़ी में पिछले दिनों निगरानी अन्‍वेषण ब्‍यूरो(Surveillance Investigation Bureau) की टीम ने सुपौल के वन प्रमंडल अधिकारी (DFO) सुनील कुमार शरण के कई ठिकानों पर छापा मारा था. इसी दौरान जब निगरानी टीम ने डीएफओ (DFO)का बैंक लॉकर खंगाला तो जांच टीम के होश उड़ गए. DFO साहब के स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के लॉकर को खंगाला गया तो वह सोने के आभूषण के शौकीन निकले.

बरबीघा स्थित डीएफओ सुनील कुमार शरण के बैंक लॉकर से लाखों रुपये की कीमत का आभूषण बरामद किया गया है. लॉकर में इतने आभूषण को देखकर एसआईबी के अधिकारी भी दंग रह गए. गुरुवार को डीएफओ सुनील कुमार शरण के बरबीघा स्थित स्टेट बैंक के एक लॉकर को खोला गया तो इस लॉकर में निगरानी विभाग की टीम को 40 लाख रुपए मूल्य के सोने के आभूषण और 28 हज़ार रुपये मूल्य के चांदी के जेवरात मिले. सोने में 10 अशरफियां भी बरामद की गई हैं.

बता दें कि सुपौल के डीएफओ सुनील कुमार शरण पर सरकारी पद का दुरुपयोग कर 1.22 करोड़ रुपये की संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगा है. उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले में केस दर्ज किया गया था. निगरानी की टीम ने डीएफओ के सुपौल स्थित कार्यालय और आवास पर पिछले 30 अप्रैल को छापेमारी की थी. वहीं 1 मई को उनके पटना के श्रीकृष्णपुरी स्थित घर पर भी छापेमारी की गई थी. जिसमें करोड़ों रुपए मूल्य की काली कमाई का पता चला था.

छापेमारी के दौरान निगरानी की टीम को डीएफओ सुशील कुमार शरण और उनकी पत्नी सुधा शरण के बैंक लॉकर की भी जानकारी मिली थी. यह बैंक का लॉकर शेखपुरा जिले के बरबीघा स्थित एसबीआई में था. जिसके बाद जांच एजेंसी ने इस लॉकर को सील कर दिया था. गुरुवार को कोर्ट की अनुमति मिलने के बाद लॉकर को खोला गया. अधिकार‍ियों के मुताबिक जब्‍त लॉकर से 40 लाख 25 हज़ार 560 रुपये का सोने का आभूषण मिला. चांदी के 370 ग्राम के करीब आभूषण मिले हैं. इसका मूल्य तकरीबन 28000 रुपये है.

इससे पहले डीएफओ सुशील कुमार शरण के ठिकानों पर जब निगरानी की टीम ने छापा मारा था. उस दौरान छापेमारी में उनके ठिकानों से 14 बैंक पासबुक के अलावा 4 लाख रुपये से अधिक की नकद और 5 लाख 84 हज़ार रुपये मूल्य के सोने के आभूषण जब्त किए गए थे. इतना ही नहीं इसके अलावा एक दुकान और भारी मात्रा में दूसरे निवेश की भी जानकारी मिली थी. पिछले 30 अप्रैल को डीएफओ के सुपौल स्थित कार्यालय और आवास और 1 मई को उनके पटना के श्रीकृष्णपुरी स्थित घर पर भी छापेमारी की गई थी.

Input : LiveCities

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.