Breaking News

पटना : फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन-अपोलो डेंटल का मेडिकल कैंप, स्लम बस्ती के सैकड़ों बच्चों का हुआ डेंटल चेक-अप

PATNA: दांत संबंधी रोग को इग्नोर न करें। अगर दांत संबंधी बीमारी है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। क्यों कि नजरअंदाज करना आपको महंगा पड़ सकता है। पैसे वाले तो सभी तरह का इलाज करा लेते हैं लेकिन गरीब परिवार वाले और उनके बच्चों का इलाज नहीं हो पाता है। डेंटल हाईजिन वैसे भी काफी महंगा होता है। ऐसे में अपोलो डेंटल व फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन की तरफ से संयुक्त रूप से वंचितों की खूबसूरत मुस्कान की रक्षा करने की पूरी कोशिश किया जा रहा है। 

 अपोलो डेंटल के साथ फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन का मेडिकल कैंप

अपोलो डेंटल के साथ फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन की तरफ से आज पटना के जू के समीप “स्माइल डेंटल कैंप” लगाया गया है। “स्माइल डेंटल कैंप” में वंचितों की खूबसूरत मुस्कान की रक्षा करने की पूरी कोशिश की गई। कैंप को आयोजित करने के पीछे की मुख्य वजह मलिन बस्तियों के बीच बहुत आवश्यक दंत स्वच्छता जागरूकता फैलाना है। 

पटना जू के पास मेडिकल कैंप में सैकड़ों बच्चों का चेकअप

फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन की प्रेसिडेंट फातिमा ने कहा कि हमलोगों ने अपोलो डेंटल के साथ मिलकर मेडिकल कैंप लगाया है। स्लम एरिया के जितने बच्चे हैं उनके लिए यह मेडिकल कैंप लगाया गया है। फ्री ऑफ कॉस्ट यह सेवा गरीब परिवार के लोगों के लिए है। वहीं अपोलो डेंटल के निदेशक रिशिता ने कहा कि यहां हमलोग ओरल हाईजिन पर काम कर रहे हैं। लोग दांत संबंधी बीमारी को  नजर अंदाज करते हैं। कैंसर जैसी बीमारियां हो जाती हैं। हमलोग कोशिश कर रहे हैं कि लोग अधिक से अधिक दांत संबंधी बीमारियों के बारे में जानें और जागरूक हों।

 फातिमा-ए-ज़ीस्त फाउंडेशन की प्रेसिडेंट फातिमा और अपोलो डेंटल की निदेशक रिशिता ने  पटना जू के समीप स्लम बस्ती में मेडिकल कैंप लगाकर सैकड़ों बच्चों का इलाज किया। इनलोगों ने बताया कि यह वाकई दिल दहला देने वाला है कि जिसे हम बुनियादी ज्ञान समझते हैं वे उससे भी वंचित हैं। बुनियादी ब्रश करने की आदतें, दंत स्वच्छता की उचित देखभाल न करने व नुकसान के बारे में इनमें से कई लोग कुछ भी नहीं जानते। उनमें से कुछ अपने दंत स्वच्छता से संबंधित समस्याओं से पीड़ित हैं. फिर भी इसे अप्रासंगिक समझकर अनदेखा कर देते हैं। ये समस्यायें गंभीर बीमारियों के विकास का कारण बन सकती हैं. लंबे समय तक नजरअंदाज करने पर मृत्यु तक हो सकती है। इस कैंप के पीछे सबसे बड़ा उद्देश्य इंसान के सबसे बड़े उद्देश्य को पूरा करना है। यानी निःस्वार्थ भाव से समाज की सेवा करना है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.