Breaking NewsNational

बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, सीजफायर की आड़ में आतंकियों को दे रहा है ट्रेनिंग

नई दिल्ली. FATF के सामने अपने को पाक-साफ दिखाने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) ने ऐसा झूठ का प्रपंच रचा कि मानो वो किसी भी आंतिकी गतिविधि में लिप्त नहीं है. भारत के साथ सीजफायर का पालन करने में भी वो ईमानदारी दिखाने की कोशिश तो बहुत कर रहा है लेकिन ये सब बस कागजों तक ही सीमित दिख रहा है. जमीन पर भारत के खिलाफ आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए अपने प्लान पर वो बदस्तूर काम कर रहा है.

भारतीय खुफिया एजेंसियों को मिली रिपोर्ट के मुताबिक एलओसी के दूसरी ओर पीओके में सभी आतंकी लॉन्चपैड पर आतंकियों का जमावड़ा लगा हुआ है. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक मई के महीने से ही पीओके के निकियाल पोस्ट पर आतंकियों को ट्रेनिंग देने का काम जारी है. इन आतंकियों को कोई और नहीं बल्कि पाकिस्तान के रिटायर्ड कमांडों ट्रेनिंग देते हैं. चूंकि एसएसजी कमांडों एलओसी के चप्पे-चप्पे से वाकिफ हैं इसलिये इनका इस्तेमाल किया जा रहा है.

खुफिया रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा हुआ कि तंगधार के दूसरी ओर पीओके में 5 आतंकियों का ग्रुप, उरी, बीजी सेक्टर, नौशेरा में भी एक दर्जन से ज्यादा आंतिकी हैं तो नार्थ कश्मीर के गुरेज की दूसरी ओर 8 से 10 हिजबुल के आतंकी, मच्छिल सेक्टर में लश्कर के आतंकी का एक और ग्रुप घुसपैठ की कोशिश को अंजाम देने की फिराक में है.


शॉर्ट ट्रेनिंग कोर्स में बताया गया है कि कैसे भारत सेना के एंटी इंफिल्ट्रेशन ग्रिड को तोड़ना है
सूत्रों के मुताबिक इस शॉर्ट ट्रेनिंग कोर्स में बताया गया है कि कैसे भारत सेना के एंटी इंफिल्ट्रेशन ग्रिड को तोड़ना है, कैसे घुसपैठ के नए रूप तलाशना है. इस ट्रेनिंग में अलग-अलग संगठनों के 24 आतंकी शामिल थे. इनमें 4 जैश, 10 अल बद्र और 10 लश्कर के थे. लॉन्चपैड पर आतंकियों की मौजूदगी की बात करें तो लीपा वैली के केरन सेक्टर में 6, नॉगाम सैक्टर में 12 आतंकी दो अलग-अलग गुट में और रामपुर सेक्टर में 6 आतंकी घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं.

FATF की बैठक के बाद कर सकता है घुसपैठ
हाल ही में आईएसआई के साथ आतंकी संगठनों की एक बैठक हुई जिसमें घुसपैठ के लिए नए रास्ते तलाशने, ड्रग्स-हथियारों की तस्करी और घाटी में मौजूद आतंकियों को फंड मुहैया कराने की कोशिश तेज करने का फरमान जारी हुआ. दरअसल पाकिस्तान एफएटीएफ के सामने अपने को पाक-साफ दिखने के लिए अभी घुसपैठ से बच रहा है लेकिन बैठक के बाद वो इसे तेज करेगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.