BIHARBreaking NewsSTATE

Bihar Election: NDA की खिलाफत करने वाले 15 नेताओं को JDU ने 6 साल के लिए निकाला

पटनाः Bihar Election में नेताओं का पार्टियों में आने-जाने का दौर तो जारी है ही, साथ ही निकाले जाने का सिलसिला भी चल रहा है. JDU ने NDA के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरे 15 नेताओं की प्राथमिक सदस्यता निलंबित करते हुए छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है. JDU के महासचिव नवीन आर्या ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी. 

ये आए कार्रवाई की जद में
कार्रवाई की जद में वर्तमान विधायक ददन यादव, पूर्व मंत्री रामेश्वर पासवान, भगवान सिंह कुशवाहा, डॉ रणविजय सिंह, सुमित कुमार सिंह, कंचन कुमारी गुप्ता, प्रमोद सिंह चंद्रवंशी, अरुण कुमार युवा जेडीयू, तजम्मूल खान, अमरेश चौधरी, शिव शंकर चौधरी, सिंधु पासवान, करतार सिंह यादव, राकेश रंजन, मुंगेरी पासवान शामिल हैं. पार्टी लाइन का मानना है कि ये नेता पार्टी से बगावत कर दूसरे पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं. साथ ही कई दूसरी पार्टियों की मदद भी कर रहे हैं.

सोमवार को भाजपा ने की थी कार्रवाई
इससे पहले सोमवार को भी कई नेताओं पर कार्रवाई की गई थी. सोमवार को भाजपा से बगावत करके लोजपा समेत अन्य पार्टियों से चुनाव लड़ने वाले 9 नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया. इनमें राजेन्द्र सिंह, रामेश्वर चौरसिया, उषा विद्यार्थी जैसे जाने-माने नाम भी शामिल हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि इनके चुनाव मैदान में उतरने से पार्टी की छवि खराब हो रही है.

भाजपा ने पहले ही चेताया था
भाजपा के निर्णय से इतर जाकर चुनाव लड़ने वाले सभी नौ नेताओं को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित किया गया है. भाजपा ने पहले ही चेतावनी दी थी कि जो कोई भी दूसरे दल से चुनाव लड़ रहे हैं, वे नाम वापसी के अंतिम दिन तक अपना नामांकन वापस ले लें.



ऐसा नहीं होने पर पार्टी की ओर से उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. सोमवार को पहले चरण के लिए नाम वापसी की तिथि समाप्त हो गई लेकिन इन 9 में से किसी ने भी अपना नाम वापस नहीं लिया. इसे देखते हुए भाजपा ने सभी नौ नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.